नवाज शरीफ का राजनीतिक करियर खत्म, पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट का फैसला

0

नई दिल्ली। पनामा पेपर केस में फंसे पाकिस्तानी पूर्व पीएम नवाज शरीफ का राजनीतिक करियर खत्म हो गया है। पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए शुक्रवार को शरीफ को किसी भी सार्वजनिक पद के लिए अयोग्य करार कर दिया है। इस फैसले के बाद अब वह कभी भी कोई सरकारी कार्यालय नहीं संभाल पाएंगे। कोर्ट ने नवाज को संविधान की धारा 62(1) के तहत अयोग्य ठहराया है। जिसके बाद वह आजीवन सियासत से दूर रहेंगे।

कोर्ट के अनुसार जनता को अच्छे चरित्र वाले सच्चे नेताओं की जरुरत
सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की बेंच ने नवाज शरीफ पर अपना फैसला देते हुए कहा कि जनता को अच्छे चरित्र वाले नेताओं की जरुरत है। कोर्ट के अनुसार सरकारी प्रतिनिधियों को हमेशा सच्चा होना चाहिए। इसके बाद से नवाज शरीफ पूरी जिंदगी कभी कोई भी चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। इसके साथ ही वह किसी भी सार्वजनिक पद पर आसीन नहीं हो पाएंगे।

पिछले साल पनामा पेपर्स केस में शरीफ का नाम सामने आने के बाद कोर्ट ने उन्हें अयोग्य करार कर दिया था। जिसके बाद आज इस फैसले पर पूरी तरह से मोहर लगा दी गई है। कोर्ट ने नवाज शरीफ के अलावा पीटीआई नेता जहांगिर तरीन को भी हमेशा के लिए अयोग्य करार दिया है।

नवाज़ शरीफ को काला धन जमा करने के आरोप में दोषी ठहराया गया था। पनामा पेपर्स में नाम आने के बाद उन्हें पीएम पद से इस्तीफा देना पड़ा था। मामले में सुनवाई करते हुए अदालत ने पहले कहा था कि नवाज़ से उनकी संपत्ति और आय के स्रोतों के बारे में सवाल किए गए थे, जिसका उन्होंने कोई सीधा जवाब नहीं दिया था।

loading...
शेयर करें