बिहार रेलवे स्टेशन को नक्सलियों ने बनाया निशाना, स्टेशन मास्टर को बनाया बंधक

उग्रवादियों ने यह भी धमकी दी कि वे स्टेशन को उड़ा देंगे। नक्सल प्रभावित जिले में पड़ने वाले मार्ग पर कई घंटों तक रेल परिचालन बाधित रहा।

बिहार: पटना-कोलकाता मार्ग पर स्थित चौरा रेलवे स्टेशन पर शनिवार सुबह सशस्त्र नक्सलियों के एक गुट ने निशाना साधा और स्टेशन मास्टर को करीब 30 मिनट तक बंधक बना लिया। उग्रवादियों ने यह भी धमकी दी कि वे स्टेशन को उड़ा देंगे। नक्सल प्रभावित जिले में पड़ने वाले मार्ग पर कई घंटों तक रेल परिचालन बाधित रहा। हालांकि इस दौरान नक्सलियों ने थाना प्रबंधक को बंधक बनाने का प्रयास किया लेकिन थाना प्रबंधक व अन्य कर्मचारी मौके से फरार हो गए।

मिली जानकारी के अनुसार, नक्सली पुलिस कर्मियों के वेश में चौरा रेलवे स्टेशन पहुंचे और स्टेशन मास्टर विनय कुमार के केबिन में घुस गए, और उन्हें ऑपरेशन रोकने के लिए मजबूर किया क्योंकि वे क्षेत्र में ‘नक्सल सप्ताह’ मना रहे थे। स्टेशन पर एक अन्य रेलवे कर्मचारी ने नाम न छापने का हवाला देते हुए कहा, “जब स्टेशन मास्टर ने उनसे पूछा कि वह ऐसा क्यों करेंगे, तो उन्होंने खुद को नक्सली बताया और अपने हथियार निकाल लिए।”

जमुई के अधीक्षक प्रमोद कुमार मंडल ने घटना की जानकारी देते हुए बताया “हमने रेलवे ट्रैक और रेलवे स्टेशन सहित पूरे इलाके में तलाशी अभियान शुरू कर दिया है और फिर रेलवे अधिकारियों को मार्ग पर परिचालन फिर से शुरू करने के लिए हरी झंडी दे दी है।” घटना के बाद, हिमगिरी एक्सप्रेस जैसी प्रमुख ट्रेनों को मार्ग के विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर रोकना पड़ा। अंतत: पुलिस और सीआरपीएफ के अधिकारियों ने इलाके में पूरी सुरक्षा व्यवस्था की और हरी झंडी देने के बाद रेलवे परिचालन फिर से शुरू कर दिया है।

यह भी पढ़ें: Bhuj: The Pride of India के डायरेक्टर ने कहीं ये बात, सुनकर हो जाएंगे हैरान

Related Articles