लटक गया जीएसटी, अब अगले सत्र में आएगा बिल

0

gst

नई दिल्‍ली। हर तरह के टैक्‍स को मिलाकर एक करने वाला जीएसटी बिल अटक गया है। मोदी सरकार का महत्वाकांक्षी यह बिल संसद के मौजूदा सत्र में नहीं पेश किया जाएगा। अब अगले सत्र में ही इसकी वापसी की उम्‍मीद है।

सूत्रों के मुताबिक सरकार देश में एक टैक्स व्यवस्था के लिए लाए जा रहे जीएसटी बिल को संसद के शीतकालीन सत्र में पेश नहीं करेगी। सरकार इस पर सभी दलों के बीच सहमति बनाने की कोशिश कर रही है लेकिन सहमति नहीं बन पा रही है। विपक्षी दलों की ना-नुकुर के कारण अब यह बिल अटक गया है।

कांग्रेस का कहना है कि जीएसटी में एक फीसदी इंटरस्टेट टैक्स न लगाया जाए। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने उत्पादक राज्यों में एक फीसदी ज्यादा टैक्स का प्रावधान हटाने के संकेत दिए हैं। केंद्र सरकार 1 अप्रैल 2016 से जीएसटी व्यवस्था लागू करना चाहती थी लेकिन अब ये डेडलाइन 1 जून 2016 की जा सकती है।

फिलहाल राज्यसभा में बहुमत न होने की वजह से ही बीजेपी को दिक्कत हो रही है। अप्रैल तक राज्यसभा में बीजेपी के 17 सदस्य और बढ़ जाएंगे। ऐसे में अप्रैल में इस बिल को दोबारा लाया जा सकता है।

loading...
शेयर करें