कश्मीर में नागरिकों की हत्या के मामले में करीब 500 हिरासत में

जम्मू : न्यूज़ एजेंसी एएफपी ने रविवार को एक अधिकारी के हवाले से बताया कि जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने करीब 500 लोगों को हिरासत में लिया है। इस कड़ी में आपको बता दें हाल ही में कश्मीरी पंडित, सिख और मुस्लिम समुदायों के सात नागरिकों की कर दी गई थी।

500 लोगों को संदेह की बुन्याद पर किया गया गिरफ्तार

नाम जाहिर करने से इनकार करते हुए एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने एएफपी को बताया कि हिरासत में लिए गए लोगों के आतंकवादी समूहों से संबंध होने का संदेह है। इस मामले पर एनडीटीवी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि हिरासत में लिए गए कई लोगों के प्रतिबंधित जमात-ए-इस्लामी समूह से संबंध होने का संदेह है। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें नई दिल्ली द्वारा भेजा गया एक शीर्ष आतंकवाद विरोधी खुफिया अधिकारी जांच का नेतृत्व कर रहा है।

अधिकारियों ने एएफपी को बताया कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने आज श्रीनगर के मुख्य शहर में 40 स्कूली शिक्षकों को पूछताछ के लिए बुलाया। हत्याओं ने विपक्षी नेताओं में नाराजगी पैदा कर दी है जिन्होंने इस तरह के हमलों को रोकने में सक्षम नहीं होने के लिए प्रशासन को दोषी ठहराया है।

इस बीच, चिनार कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे ने रविवार को इलाके में हुई हत्याओं की निंदा करते हुए कहा कि कुछ तत्व समाज को सांप्रदायिक आधार पर बांटने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि ऐसे तत्व पिछले एक साल में देश और केंद्र शासित प्रदेश में हुए सकारात्मक विकास से ईर्ष्या करते हैं।

यह भी पढ़ें : शिवसेना, राकांपा ने दिया आदेश, लखीमपुर खीरी हिंसा के विरोध में आज महाराष्ट्र बंद

Related Articles