पंचायतों में विकास कार्यो में लापरवाही अक्षम्य: मनोज सिंह

सिंह ने कहा कि ग्राम पंचायतो में कराये जा रहे विकास एवं निर्माण कार्य सही ढंग से कराया जाये. सामुदायिक शौचालय निर्माण व पंचायत भवन के निर्माण कार्य मानक एवं गुणवत्तापूर्ण ढंग से कराया जाए

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में पंचायतीराज विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने फतेहपुर, फरूखाबाद, प्रतापगढ, मऊ, कानपुर देहात और बलिया मे सामुदायिक शौचालय निर्माण, पंचायत भवन निर्माण एवं मनरेगा कार्यो में धीमी प्रगति होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुसे मुख्य विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि विकास एवं निर्माण कार्य निर्धारित समय के अन्दर कराया जाना सुनिश्चित किया जाये और इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी.

सिंह ने कहा कि ग्राम पंचायतो में कराये जा रहे विकास एवं निर्माण कार्य सही ढंग से कराया जाये. सामुदायिक शौचालय निर्माण व पंचायत भवन के निर्माण कार्य मानक एवं गुणवत्तापूर्ण ढंग से कराया जाए, इसका विशेष ध्यान रखा जाए. जिन सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कार्य पूरी तरह पूर्ण हो गया है, उन सामुदायिक शौचालयों को महिला स्वयं सहायता समूहों को रख-रखाव हेतु शीघ्र ही दे दिये जाएं.

उन्होने प्रदेश के सभी मुख्य विकास अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह जिलों में सभी निर्माण कार्यो का स्वयं निरीक्षण करें तथा अपूर्ण निर्माण कार्यों को नियमानुसार कार्यवाही करते हुए पूर्ण कराना सुनिश्चित किया जाये. इसके साथ ही क्षेत्र का भ्रमण कर ग्राम पंचायतो में कराये जा रहे कार्यों का अवलोकन अवश्य करना सुनिश्चित करें.

निदेशक पंचायतीराज किंजल सिंह ने कहा कि सभी मानदेय कर्मियों का नियमित रूप से भुगतान किया जाना सुनिश्चित किया जाय. उन्हाेने विभागीय अधिकारियों से यह भी कहा कि पीआईजीएफ की धनराशि व्यय करते हुए शीध्र ही उपभोग प्रमाण पत्र निदेशालय को प्रेषित किया जाये.

यह भी पढ़े: तमिलनाडु में कोरोना संक्रमित मरीजों के स्वस्थ होने की दर 96 फीसदी पार

Related Articles

Back to top button