लड़ाकू विमान F-15EX पर अमेरिका और भारत के बीच बातचीत शुरू : बोइंग

वॉशिंगटन: भारत और अमेरिका की सरकारों के बीच लड़ाकू विमान एफ-15ईएक्स (F-15EX) के बारे में चर्चा हुई है। बोइंग के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया है कि दोनों देशों की वायुसेना के बीच इस संबंध में सूचनाओं का आदान-प्रदान किया गया। अमेरिकी सरकार ने एयरोस्पेस क्षेत्र की प्रमुख कंपनी बोइंग द्वारा भारतीय वायुसेना को इस नए बहुउद्देश्यीय लड़ाकू विमान एफ-15ईएक्स (F-15EX) की बिक्री का रास्ता साफ कर दिया है।

एफ-15ईएक्स विमान एफ-15 विमानों की श्रृंखला का सबसे नया एवं आधुनिक स्वरूप है, जो हर मौसम और रात के अंधेरों और दिन में संचालित होने की अधिक क्षमता रखता है। बोइंग इंटरनेशन सेल्स एंड इंडस्ट्रीयल पार्टनशिप्स की उपाध्यक्ष मारिया एच लैने ने बताया कि, ‘भारत और अमेरिका की सरकारों के बीच इस संदर्भ में बातचीत हुई और फिर दोनों देशों की वायुसेना ने एफ-15ईएक्स के बारे में सूचनाओं का आदान-प्रदान किया।’

ये भी पढ़ें : Daniel Pearl Murder Case : अमेरिकी नारजगी के बाद भी नहीं बदला पाकिस्तानी SC का फैसला

मारिया एच लैने ने कहा, ‘भारत को एफ-15ईएक्स विमान देने के हमारे लाइसेंस संबंधी अनुरोध को अमेरिका की सरकार ने मान लिया है। अप्रैल 2019 में भारतीय वायुसेना ने करीब 18 अरब डॉलर की लागत से 114 विमानों के अधिग्रहण के लिए ‘सूचना का अनुरोध’ या शुरुआती निविदा जारी की थी, जिसे अभी जल्दी में ही दुनिया की सबसे बड़ी सैन्य खरीद बताया गया था। बोइंग ने कहा कि बेंगलुरु में अगले हफ्ते से शुरू हो रहे एयरो इंडिया 2021 में एफ-15ईएक्स विमान को प्रदर्शित किया जाएगा।

ये भी पढ़ें : संजीव नंदन सहाय की जगह इन्हें मिला बिजली सचिव का पदभार

Related Articles

Back to top button