न भाजपा न कांग्रेस, बैंक बैलेंस के मामले में यह पार्टी नंबर एक पर

0

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 का शोर अपने पूरे चरम पर है। सात चरणों के इस चुनाव का पहला चरण 11 अप्रैल को समाप्त भी हो चुका है। आज के दौर में चुनाव में पैसे का बड़ा जोर होता है। जिस पार्टी या उम्मीदवार के पास जितना ज्यादा पैसा होता है वह उतना ही भव्य प्रचार करता है। ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि किस राष्ट्रीय पार्टी के पास कितना पैसा है। चलिए समझते हैं पैसे के इस खेल को…

बैंक बैलेंस में फिसड्डी है भाजपा
सबसे पहले बात देश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की कर लेते हैं। यह पार्टी पिछले पांच साल से देश में सरकार चला रही है और इस दौरान कई राज्यों में भी उसकी सरकारें बनी हैं। ऐसे में हर किसी को लग सकता है कि भाजपा के पास ही सबसे ज्यादा बैंक बैलेंस होगा। वैसे बता दें कि भाजपा के पास 81 करोड़ 82 लाख 28 हजार से ज्यादा रुपये हैं, जिसमें से 55,81,860 रुपये पार्टी के पास कैश है। पार्टी का दावा है कि उसने 2017-18 में कमाए गए कुल 1027 करोड़ में से 758 करोड़ रुपये खर्च कर दिए। बता दें कि यह किसी भी पार्टी द्वारा खर्च की गई सबसे ज्यादा रकम है। भाजपा भले ही देश की सबसे बड़ी पार्टी हो, लेकिन बैंक बैलेंस के मामले में वह नंबर एक नहीं है।

कांग्रेस का हाल
बात कांग्रेस की करें तो इसी पार्टी ने देश में सबसे लंबे वक्त तक शासन किया है। आज के दौर में भी भाजपा के विकल्प के तौर पर कांग्रेस को ही देखा जाता है। ऐसे में कांग्रेस का बैंक बैलेंस भी आप जानना चाहेंगे। कांग्रेस ने पिछले साल पांच राज्यों में हुए चुनाव में मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में सरकार बनाई थी। लेकिन अभी तक इस जीत के बाद बैलेंस का ब्यौरा चुनाव आयोग में अपडेट नहीं किया। कांग्रेस ने कर्नाटक चुनाव के बाद जो बैलेंस अपडेट किया था, उसके अनुसार पार्टी के पास 196 करोड़ रुपये का बैंक बैलेंस है और उस तरह वह सत्तारूढ़ भाजपा से काफी आगे है। बता दें कि भाजपा के मुकाबले दोगुना बैंक बैलेंस होने के बावजूद कांग्रेस इस मामले में नंबर एक नहीं है।

ये है नंबर एक पार्टी
भाजपा और कांग्रेस नंबर एक नहीं है तो सहज ही उत्सुकता जागती है कि आखिर नंबर एक है कौन? बैंक बैलेंस के मामले में नंबर एक पर है मायावती की बहुजन समाज पार्टी यानि बीएसपी। BSP एक राष्ट्रीय पार्टी है और उसके बैंक बैलेंस के आगे तमाम राष्ट्रीय और क्षेत्रीय पार्टियां कहीं नहीं ठहरतीं। इसी साल 25 फरवरी को चुनाव आयोग में बैंक बैलेंस की जानकारी देते हुए BSP ने बताया कि उसके पास कुल 669 करोड़ रुपये हैं। यह आंकड़ा भाजपा से करीब 8 गुना और कांग्रेस से करीब साढ़े तीन गुना ज्यादा है। बता दें कि BSP साल 2014 के लोकसभा चुनाव में अपना खाता भी नहीं खोल पायी थी और मध्य प्रदेश में वह कांग्रेस सरकार को समर्थन दे रही है। इसके अलावा पार्टी कहीं भी सत्ता में नहीं है। इसके बावजूद पार्टी का बैंक बैलेंस में नंबर-1 होना बहुत से लोगों के लिए चौंकाने वाली बात हो सकती है।

समाजवादी पार्टी भी किसी राज्य में सत्ता में नहीं है, लेकिन यह पार्टी भी बैंक बैलेंस के मामले में भाजपा और कांग्रेस से काफी आगे है। समाजवादी पार्टी के बैंक खातों में 471 करोड़ रुपये हैं।
loading...
शेयर करें