मर्सिडीज-बेंच ने पेश की देश की पहली ‘बीएस-6 कॉम्प्लाएंट’ कार

0

नई दिल्ली। दिग्गज कार कंपनी मर्सिडीज-बेंज ने ‘बीएस-6 कॉम्प्लाएंट’ कार नियमों को देश में लांच कर दिया है। आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि इसको नियम लागू होने से दो साल पहले ही पेश कर दिया गया है। कंपनी की जल्द ही लांच होने वाली एस350 डी और मर्सिडीज-मेबैक एस560 को भी ‘इंडियन क्रैश नॉर्म कॉम्पलाएंट’ वाहन के रूप में एआरएआई सर्टिफिकेट मिला है।

इस तरह मर्सिडीज बेंज भारत में पहले बीएस कॉम्प्लाएंट वाहनों को लॉन्च करने वाला पहला ब्रांड बन गया है। आटोमोटिव रिसर्च एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एआरएआई) की निदेशक रश्मि उर्धवारेशे ने मर्सिडीज बेंज इंडिया के लिए सीएमवीआर (केंद्रीय मोटर वाहन नियम) के अनुपालन का सर्टिफिकेट केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग, जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी और सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्रालय के संयुक्त सचिव अभय दामले और अन्य गणमान्य व्यक्तियों की मौजूदगी में कंपनी के एमडी और सीईओ रोलैंड फोल्गर को प्रदान किया।

जानें क्या होगा इसका फायदा

इस अवसर पर गडकरी ने कहा कि दिल्ली और आसपास के इलाकों में बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए, सरकार अप्रैल 2018 तक दिल्ली एनसीटी में बीएस-6 ग्रेड ईंधन की उपलब्धता बढ़ाने और देश भर में अप्रैल 2020 तक बीएस -6 नियमों को लागू करने का प्रयास कर रही है। इससे प्रदूषण को काफी तेजी से कम किया जाएगा और हमें विश्व स्तर पर उपयोग की जाने वाली बेहतर तकनीक की ओर कदम बढ़ाने में मदद मिलेगी। मैं मर्सिडीज बेंज को उनके प्रयासों के लिए बधाई देता हूं।

रश्मि उर्धवारेशे ने कहा, “बीएस-6 के अनुकूल पेट्रोल-डीजल वाहनों के लिए मर्सिडीज बेंज इंडिया को सीएमवीआर के लिए सर्टिफिकेट ऑफ कॉम्प्लायंस देकर हम काफी प्रसन्न हैं। हमने दोनों वाहनों पर सख्त और व्यापक परीक्षण किए हैं, जिसमें पार्टिकुलेट नंबर्स, इंजन पावर टेस्ट, ऑन-बोर्ड-डाग्नोसिस टेस्ट और रियल वल्र्ड ड्राइविंग उत्सर्जन (आरडीई) डेटा संग्रह शामिल हैं।”

 

 

loading...
शेयर करें