New Parliament: नए संसद भवन की रखी गई आधारशिला, कई आधुनिक सुविधाओं से लैश

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए संसद के भूमि पूजन के बाद दोपहर 1 बजकर 11 मिनट पर नए संसद भवन की आधारशिला रखी। इस अवसर पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, केंद्रीय मंत्रिमंडल के कई वरिष्ठ सदस्य और बड़ी संख्या में सांसद मौजूद रहे।

नए संसद भवन का निर्माण 2024 तक पूरा होना है। देश की आजादी के 75वें वर्ष में नए संसद भवन में बैठक शुरू होगी। नया संसद भवन आधुनिक तकनीक से लैस होगा। इसमें सुरक्षा के लिए अत्याधुनिक उपकरण लगे होंगे। साथ ही भविष्य को ध्यान में रखते हुए लोकसभा और राज्यसभा कक्षों में सदस्यों के लिए सीटों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी।

बता दें कि नई लोकसभा मौजूदा आकार से तीन गुना बड़ी होगी और राज्यसभा के आकार में भी वृद्धि की गई है। ये नया संसद भवन ना केवल पुराने भवन से बड़ा होगा। बल्कि इसका आकार भी गोल ना होकर त्रिभुज के जैसा होगा। लोकसभा सचिवालय की ओर से जारी एक रिलीज में कहा गया कि नए संसद भवन का डिजाइन अहमदाबाद के मैसर्स एचसीपी डिजाइन और मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा तैयार किया गया है। इसका निर्माण कार्य टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड द्वारा किया जाएगा।

नए संसद भवन को कई आधुनिक सुविधाओं से लैश किया जाएगा। और डाटा नेटवर्क प्रणालियों से सुसज्जित किया जाएगा। यह सुनिश्चित करने के लिए ध्यान दिया जा रहा है कि निर्माण कार्य के दौरान संसद के सत्रों के आयोजन में कम से कम रुकावट हो और पर्यावरण संबंधी सभी सुरक्षा उपायों का पालन किया जाए।

यह भी पढ़ें: प्रदेश में कोहरे ने थामी रफ्तार, ठंड से सजा गर्म कपड़ों का व्यापार

Related Articles