पब्लिक प्लेस पर फेंकते हो कूड़ा (Garbage)? तो बुरे फंसने वाले हो!

अब अगर आप 100 किलो से ज्यादा कूड़ा रोजाना निकालते हैं तो आपके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए अपनी सोसाइटी या फिर कमर्शियल संस्थान में कूड़ा निस्तारण के लिए प्लांट लगवाना होगा।

नई दिल्ली: ग्रेटर नोएडा में रहने वाले लोगों के लिए एक खास सूचना जारी की गई है। हाउसिंग सोसाइटी, होटल-रेस्टोरेंट, कंपनी या फिर मॉल से रोजाना 100 किलो या उससे ज्यादा का कूड़ा निकलता है तो ये आपको महंगा पड़ सकता है। ये फरमान ग्रेटर नोएडा प्रधिकरण ने जारी किया है। इस फरमान में बताया गया है कि अब अगर आप 100 किलो से ज्यादा कूड़ा रोजाना निकालते हैं तो आपके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए अपनी सोसाइटी या फिर कमर्शियल संस्थान में कूड़ा निस्तारण के लिए प्लांट लगवाना होगा।

वहीं प्रधिकरण के अफसरों की मानें तो 4 फरवरी की बैठक में ऐसे लोग शामिल हुए थे, जिनकी हाउसिंग सोसाइटी, होटल-रेस्टोरेंट, मैरिज होम, कंपनी या फिर मॉल से 100 किलो या उससे भी ज़्यादा कूड़ा रोज़ाना निकलता है। इस बैठक में प्रधिकरण ने साफ किया है कि इमारतों को अपने कूड़े का खुद निस्तारण करना होगा। इसके लिए कूड़ा निस्तारण के लिए प्लांट लगवाना होगा। वहीं बैठक में ये भी कहा गया है कि अब अगर बाहर पब्लिक प्लेस पर कूड़ा फेंका तो आपके खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है।

यह भी पढ़ें: Haridwar Kumbh 2021: कुंभ में यात्रियों के लिए कोरोना Negative रिपोर्ट अनिवार्य

प्रधिकरण के अनुसार, स्वच्छ भारत मिशन के तहत शहर को स्वच्छ बनाने के लिए सॉलिड वेस्ट मैनेजमेन्ट अधिनियम-2016 के प्रावधानों को लागू किया जा रहा है। बैठक में प्रधिकरण के विशेष कार्याधिकारी शिव प्रताप शुक्ला, वरिष्ठ प्रबंधक रमेश चन्द्र, उप महाप्रबंधक केआर वर्मा ने ठोस अपशिष्ट प्रबन्धन की व्यवस्था को और बेहतर तरीके से करने के लिए जागरुक किया। गीले और सूखे कूड़े को कैसे अलग-अलग रखा जाए यह भी बताया।

यह भी पढ़ें: जेल से रिहा हुए मनदीप पुनिया, दिल्ली पुलिस और सरकार का किया पर्दाफाश

Related Articles

Back to top button