IPL
IPL

उर्जा मामले में आत्मनिर्भर बना यह प्रदेश, स्कूलों की छतों पर लगेंगे रूफटॉप सोलर संयंत्र

मध्य प्रदेश में सोलर ऊर्जा के माध्यम से गांवों को ऊर्जा के मामले में आत्मनिर्भर बनाने की पहल हो रही है। इसके तहत स्कूलों की छतों पर रूफटॉप सोलर संयंत्र स्थापित किए जाएंगे।

भोपाल: मध्य प्रदेश में सोलर ऊर्जा के माध्यम से गांवों को ऊर्जा के मामले में आत्मनिर्भर बनाने की पहल हो रही है। इसके तहत स्कूलों की छतों पर रूफटॉप सोलर संयंत्र स्थापित किए जाएंगे। नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हरदीप सिंह डंग ने अधिकारियों के साथ विभागीय समीक्षा करते हुए कहा कि, “प्रदेश के स्कूलों की छतों पर रूफटॉप सोलर संयंत्र स्थापित करने के निर्देश दिये गए हैं।

प्रथम चरण में कुछ स्कूलों को चिन्हित कर सोलर पैनल लगाये जायेंगे। एक गांव का चयन कर सोलर ऊर्जा के माध्यम से आत्मनिर्भर बनाते हुए मॉडल गांव के रूप में स्थापित किए जाएंगे, इनकी सफलता के बाद पूरे प्रदेश में योजना का प्रसार किया जायेगा।”नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री डंग ने कहा कि, “सोलर ऊर्जा के क्षेत्र में मध्यप्रदेश अग्रणी राज्य के रूप में उभरा है। यह पारम्परिक ऊर्जा बचाने के साथ सस्ती भी पड़ती है और दूरस्थ क्षेत्र के लोगों को भी लाभ मिलता है।”

डंग ने कहा कि, “प्रदेश में सोलर ऊर्जा के क्षेत्र में पिछले एक दशक में दस गुना प्रगति हुई है। प्रदेश में 2380 मेगावॉट की 126 सौर ऊर्जा, 2444 मेगावॉट की 71 पवन ऊर्जा, 119 मेगावॉट की 34 बॉयोमास ऊर्जा, 99 मेगावॉट की 13 लघु जल विद्युत योजनाएं हैं।

यह भी पढ़े:Delhi: पेट्रोल के दाम में लगी ‘आग’, लोगों के छूट रहे पसीने

Related Articles

Back to top button