सचिन वाजे सहित दस के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर एनआईए ने  लगाया UAPA

नई दिल्ली : राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटक से लदी कार मिलने और कारोबारी मनसुख हिरन की हत्या के मामले में शुक्रवार को बर्खास्त पुलिस अधिकारी सचिन वाजे और रिटायर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा समेत दस लोगों के खिलाफ अदालत में UAPA लगाते गए चार्जशीट दायर कर दी है।

UAPA की अलावा दंड संहिता की कई धाराएं लगाई गई हैं

सचिन वाजे और शर्मा के अलावा नौ हज़ार पन्नों की इस चार्जशीट में विनायक शिंदे, नरेश गोर, रियाजुद्दीन काजी, सुनील माने, आनंद जाधव, सतीश मठकुरी, मनीष सोनी एवं संतोष शेलर का नाम शामिल भी है। सभी आरोपी फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं। इस कड़ी में एनआईए ने एक ने बयान जारी कर बताया कि आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत हत्या, आपराधिक साजिश, अपहरण, और विस्फोटक पदार्थों के संबंध में लापरवाहीपूर्ण रवैया के अलावा UAPA, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम तथा हथियार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें की इस साल फरवरी में मुकेश अंबानी के मुंबई स्थित आवास एंटीलिया के निकट जिलेटिन की छड़ से लदी एक एसयूवी कार बरामद होने के मामले में गामदेवी पुलिस थाने में पहली एफआईआर दर्ज की गई थी। जिसके बाद इन लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

यह भी पढ़े : Amity यूनिवर्सिटी ने डीआरडीओ के साथ मिलकर शुरू किया डिफेंस टेक्नोलॉजी कोर्स

Related Articles