केरल के चमगादड़ों में मिली nipah virus एंटीबॉडी

कोच्चि : केरल की हेल्थ मिनिस्टर वीना जॉर्ज ने बुधवार को बयान जारी कर कहा कि चमगादड़ की दो किस्मों के सैंपल में nipah virus के एंटीबॉडी पाए गए । जानकारों के मुताबिक  यह एक एक जूनोटिक वायरस है जो जानवरों से इंसानों में फैलता है।

फल खाने वाले चमगादड़ से फैलता है nipah virus

खबर के मुताबिक नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी पुणे ने कोझीकोड से चमगादड़ों के कई सैंपल लिए थे, जहां इस साल निपाह का एक मामला सामने आया था। जॉर्ज ने बताया कि चमगादड़ की दो किस्मों के टेस्ट ने निपाह के एंटीबॉडी की मौजूदगी के संकेत मिले हैं इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें केरल के कोझिकोड में एक बच्चे की निपाह वायरस के कारण मौत के बाद केंद्रीय दल को राज्य में भेजा गया था। लड़के के शरीर से सैंपल लिए गए थे और उन्हें पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वॉयरोलॉजी पुणे भेजा गया था जहां उनमें निपाह वायरस की मौजूदगी की पुष्टि हुई। परिवार के मुताबिक बच्‍चे ने रामबूटान फल खाया और उसी के बाद उसकी तबीयत खराब हुई।

लीची जैसा दिखने वाला यह फल भारत में दक्षिणी राज्‍यों में पाया जाता है।इस कड़ी में डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, इस वायरस से संक्रमित लोगों में शुरू में बुखार, सिरदर्द, उल्टी, गले में खराश जैसी शिकायत होती है। उसके बाद कमजोरी आना, चक्कर आना जैसे लक्षण नज़र आते है।

यह भी पढ़ें : PM POSHAN Scheme को मिली कैबिनेट की मंजूरी

 

Related Articles