निपाह वायरस: सऊदी अरब ने केरल के उत्पादों पर लगाया बैन, हो सकते हैं जानलेवा

0

नई दिल्ली। सऊदी अरब ने घातक निपाह वायरस के प्रकोप के मद्देनजर केरल के फ्रोजेन एवं संसाधित फलों और सब्जियों के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है। ‘गल्फ न्यूज’ की सोमवार की रिपोर्ट के अनुसार, निपाह वायरस स्वयं एंसेफेलाइटिस (मस्तिष्क की खतरनाक सूजन) का कारण बन सकता है और इसके सामान्य लक्षण बुखार, खांसी, सिरदर्द, सांस की तकलीफ और भ्रम जैसे लक्षणों से अलग नहीं होते हैं।
29 मई को सऊदी अरब अमीरात (यूएई) ने केरल से आयात होने वाली वस्तुओं पर प्रतिबंध लगाया था। संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारियों ने कहा था कि केरल से आयात किए जाने वाले 100 टन फल व सब्जियों के प्रवेश को प्रतिबंधित कर दिया गया है।यूएई की स्वास्थ्य प्रदाता कंपनी वीपीएस हेल्थकेयर ने केरल सरकार को निपाह से लड़ने के लिए विमान से चिकित्सीय सामग्री भेजी है। अब तक केरल में निपाह से 16 लोगों की मौत हो चुकी है।

जानकारी के मुताबिक कहा जा रहा है कि भारत के लिए यह सबसे बड़ा खतरा बनता जा रहा है। जिसकी वजह से यूएई, बेहरीन, और अब एक और देश ने सब्जियों व फलों पर बैन लगा दिया है। डब्लूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक यह वायरस चमगादड़ की लार, और यूरिन से फैलता है। इसलिए उन फलों पर बैन लगाया गया है जिसे चमगादड़ चखते हैं। इसमें विशेष तौर पर ग्रेटर इंडियन फ्रूट बैट हैं, जिसके बारे में कहा जाता है कि दक्षिण एशिया में यह ज्यादा मात्रा में पाया जाता है।

loading...
शेयर करें