ज़हरीली शराब के हुई मौतों के बाद हरकत में आया Nitish प्रशासन

पटना : बिहार में जहरीली शराब पीने से 32 लोगों की मौत हो गई है। इसके बाद सीएम नीतीश कुमार एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। इस कड़ी में सीएम Nitish कुमार ने राज्य में शराबबंदी को लेकर 16 नवंबर को एक हाईलेवल मीटिंग बुलाई है।

Nitish कुमार के बिहार के बेतिया में 15, गोपालगंज में 13 और समस्तीपुर में 4 लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो गई है।

इस कड़ी में नीतीश कुमार ने शुक्रवार को राज्य में शराबबंदी को लेकर एक समीक्षा बैठक की थी। उन्होंने बताया कि नकली शराब बनाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है। बिहार के गोपालगंज जिले में शनिवार तक 60 जगहों पर छापेमारी की गई थी, और जहरीली शराब पीने के मामले में 19 लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

इस कड़ी में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि राज्य में अवैध शराब की बिक्री अभी भी पुलिस की मिलीभगत से हो रही है। उन्होंने शराब पाबंदी की समीक्षा करने पर जोर दिया। जायसवाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि पुलिस जहां भी एक्टिव है वहां अवैध रूप से शराब की बिक्री हो रही है। खासकर पूर्वी चंपारण में पुलिस की मिलीभगत के बिना अवैध रूप से शराब की बिक्री नहीं हो सकती थी।

यह भी पढ़ें : पंजाब के डिप्टी सीएम Sukhjinder Randhawa ने अपने दामाद को नवाज़ा सरकारी ओहदा

Related Articles