नीतीश अब भाजपा के हो गए हैं, अब वह ‘कमल’ चुनाव चिह्न् पर इले‍क्शन लड़ेंगे

पटना। बिहार के सीएम नीतीश कुमार और शरद यादव के रास्ते अलग होते दिखाई दे रहे हैं। नीतीश कुमार के करीब चार साल के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुवाई वाले (राजग) में शामिल होने के साथ ही दोनों खेमों में विवाद खुलकर सामने आ गया। वहीं, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने बिहार के मुख्यमंत्री और जद (यू) के अध्यक्ष नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए कहा कि नीतीश तो अब भाजपा के हो गए हैं, अब वह ‘कमल’ चुनाव चिह्न् पर चुनाव लड़ेंगे।

लालू ने नीतीश को कहा, पलटू राम

नीतीश को ‘पलटू राम’ करार देते हुए लालू ने कहा, पलटू राम अब पलटी मारते हुए भाजपा के साथ हो गए हैं। अब वे कमल चुनाव चिह्न् पर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि असली जद (यू) शरद यादव की थी और रहेगी। लालू ने दावा करते हुए कहा कि सभी जद (यू) समर्थक, जो समान विचार धारा के हैं, वे शरद के साथ हैं।

वे डर के कारण होटल के बजाय मुख्यमंत्री आवास पर बैठक कर रहे हैं

मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर जद (यू) की बैठक आयोजित करने पर नीतीश पर कटाक्ष करते हुए लालू ने कहा, मैंने पहले भी नीतीश को ‘रणछोड़’ कहा था, वह आज साबित हो गया। वे डर के कारण होटल के बजाय मुख्यमंत्री आवास पर बैठक कर रहे हैं। डर के मारे छिपकर अपने घर में बैठक कर रहे हैं। वे पलटूराम थे और आज भी पलटूराम ही हैं। रोज दल बदलते रहते हैं।

इस मामले में नीतीश कुमार फंस गए हैं

लालू ने भागलपुर के सृजन घोटाले की चर्चा करते हुए कहा कि इस मामले में नीतीश कुमार फंस गए हैं। उन्होंने दावा किया कि इस मामले में 2,500 करोड़ रुपये से ज्यादा का घोटाला हुआ है। लालू ने कहा कि नीतीश ने दबाव में इस मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की बात की है।

Related Articles

Back to top button