नीतीश कुमार नही ले रहे राजनीति से सन्यास, JDU प्रदेश अध्यक्ष ने दी CM के बयान पर सफाई

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि नीतीश कुमार स्वयं चुनाव नही लड़ रहे है। यदि वह वहां से स्वयं चुनाव लड़ रहे होते ते इस बात का यह आशय निकल सकता था परन्तु उनकी बात का यह मतलब निकालना बेबुनियाद है।

पटना:  नीतीश कुमार के राजनीति सन्यास लेने वाले बयान पर बिहार के JDU प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण ने सफाई देते हुए कहा कि राजनीति करने वाला और समाज और समाज सेवा करने वाला कभी रिटायर नहीं होता है और नीतीश कुमार ऐसे ही सामजसेवी है।

नीतीश के बयान को उनके राजनीति सन्यास से जोड़ना बेबुनियाद

वशिष्ठ नारायण ने कहा कि नीतीश कुमार के कहने का एसा कोई आशय नही था। नीतीश कुमार बिहार में हो रहे चुनाव में अन्तिम चुनाव प्रचार में जाने की बात कह रहे थे। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि नीतीश कुमार स्वयं चुनाव नही लड़ रहे है। यदि वह वहां से स्वयं चुनाव लड़ रहे होते ते इस बात का यह आशय निकल सकता था परन्तु उनकी बात का यह मतलब निकालना बेबुनियाद है।

नीतीश जी के बयान को विपक्ष की पार्टीयां उनका हार मानना ओर सन्यास लेने से जोड़कर यदि खुश हो रही हैं तो यह उन लोगों की मर्जी है। वह नीतीश कुमार की अन्तिम चुनावी सभा थी और इसके सन्दर्भ में ही उन्होनें यह बयान दिया था।

वशिष्ठ सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार वहां पर किसी और उम्मीदवार के लिए प्रचार करने गए थे। अंतिम चुनावी सभा थी तो वो यह कह ही सकते हैं।

नीतीश के बयान से नही पड़ेगा पार्टी पर कोई असर

यह पूछे जाने पर कि इस बयान से क्या उनकी पार्टी पर कोई असर पड़ेगा तो वशिष्ठ जी ने जवाब दिया कि इससे पार्टी पर कोई असर नही पड़ेगा और ना ही राजग को इससे कोई नुकसान होगा।  अपने बयान में वशिष्ठ जी ने कहा कि अगर इस बयान का गलत मतलब निकालने वाले लोग हैं तो इस बयान का सही मतलब भी निकालने वाले लोग हैं। और राजग के पास ऐसे बहुत लोग हैं।

नीतीश ने बिहार को बनाया और सजाया है

नीतीश कुमार के बयान को स्पष्ट करते हुए JDU प्रदेश अध्यक्ष सिंह ने बताया कि वो ऐसा फैसला कैसे ले सकते हैं। जिन्होनें बिहार को इतना बनाया और सजाया है वो समाजसेवा से सन्यास कैसे ले सकता है। नीतीश कुमार का मानना है कि जब तक जनता चाहेगी वो तब तक बिहार की सेवा करते रहेंगे।

चुनाव प्रचार के दौरान नीतीश ने अंत भला तो सब भला होने कही थी बात

गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने बिहार के तीसरे चरण के लिए होने वाले चुनाव में JDU के अपने एक उम्मीदवार के लिए पूर्णियां के धमदाहा में चुनाव प्रचार करने के लिए गए थे, जहां पर उन्होनें कहा था कि आज चुनाव का अन्तिम दिन हैं, परसों मतदान है और यह मेरा अन्तिम चुनाव, अंत भला तो सब भला। उसके बाद से लोग नीतीश कुमार के राजनीति छोड़ने पर अटकलें लगा रहे हैं।

ये भी पढ़ें : देश में कोरोना सैंपल की जांच का आंकड़ा 11.50 करोड़ के पार

Related Articles

Back to top button