नीतीश कुमार ने युवाओं को दिया ख़ास तोहफा, अब पठाई के लिए मिलेगा क्रेडिट कार्ड

0

पटना| विश्व कौशल दिवस के अवसर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को देश के युवाओं को विकास की कुंजी बताया है। इस अवसर पर पटना में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि जब तक देश के युवाओं का विकास नहीं होगा तबतक किसी देश का विकास संभव नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने युवाओं की पठाई के लिए निश्चय योजना की शुरुआत की जिसके तहत गरीब युवाओं को 12वीं से आगे की पढ़ाई के लिए क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराने का नियम है।

नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने कहा- कई युवा गरीबी के कारण 12वीं से आगे नहीं पढ़ पाते

नीतीश कुमार ने कहा कि भारत में युवाओं की आबादी सबसे ज्यादा है और देश के अंदर बिहार में सर्वाधिक आबादी युवाओं की है। ऐसे में देश का विकास तभी संभव है, जब युवाओं का विकास होगा।  उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सात निश्चय योजना की घोषणा की है, जिसमें पहला तथा एक अन्य निश्चय सीधे युवाओं से जुड़ा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2016 में राज्यभर में कौशल विकास के 48 केंद्र थे, जिसमें 1978 युवा प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे थे जबकि जुलाई, 2017 में एक लाख 13 हजार युवा प्रशिक्षण के लिए नामांकित हैं। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी जरूरत है कि इन कार्यक्रमों और कार्यो का युवाओं के बीच प्रचार हो।

नीतीश कुमार ने कहा कि सात निश्चय का पहला निश्चय है ‘आर्थिक हल, युवाओं को बल।’ इस निश्चय योजना के पांच अवयव हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं को उच्च शिक्षा के लिये स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड की योजना की शुरुआत की गई है। राज्य का उच्च शिक्षा के क्षेत्र में सकल नामांकन अनुपात 13 प्रतिशत है, जिसे बढ़ाना जरूरी है।

उन्होंने कहा कि कई युवा गरीबी के कारण 12वीं से आगे नहीं पढ़ पाते हैं। 12वीं से आगे पढ़ने वाले इच्छुक युवाओं को चार लाख रुपये तक का स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके लिये बैंक से समझौता किया गया है। नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य के सभी जिलों में इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना की जा रही है, इससे इंजीनियरिंग पढ़ने के लिए छात्रों को जिले के बाहर जाने की जरूरत नहीं होगी।

loading...
शेयर करें