अप्रैल के बाद पहली बार धारावी में कोरोना का कोई मरीज नहीं

भारत में कोरोना वायरस के केसेस में लगातार गिरावट दर्ज हो रही है। इसी के तहत मुंबई के धारावी में चमत्कार देखने को मिला।

नई दिल्ली, कोरोना वायरस महामारी को दुनिया में सामने आये एक वर्ष से ज्यादा का समय हो गया है। दुनिया के कई देशो में इस महामारी की दूसरी लहर का खतरा बढ़ रहा है, तो वहीँ भारत में कोरोना वायरस के केसेस में लगातार गिरावट दर्ज हो रही है। इसी के तहत मुंबई के धारावी में चमत्कार देखने को मिला। एक समय मुंबई के अन्य इलाकों की तरह धारावी कोरोना वायरस से सबसे संक्रमित इलाका था। यहां पर शुक्रवार को कोरोना वायरस के एक भी नए मामले नहीं सामने आए।

इसे भी पढ़े:राजग ने बिहार के किसानों का भरोसा जीता इसलिए विपक्ष के बहकावे में नहीं आये: सुशील

धारावी भी देश के अन्य इलाकों की तरह कोरोना से जंग जीतते दिख रहा है। एक अप्रैल के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब धारावी में कोई भी नया केस नहीं सामने आया है। एशिया की सबसे बड़ी स्लम एरिया धारावी में अब केवल 12 संक्रमित मरीज रह गए है। कोरोना वायरस के खात्मे में धारावी के निवासियों ने भी स्वास्थ कर्मियों का भरपूर सहयोग दिया। करीब 3 वर्ग किमी एरिया में फैले धारावी में करीब 7 लाख लोग रहते है। कोरोना से जंग जीतने के साथ देश के अन्य इलाकों की तरह अब यहां के लोगों का भी जन-जीवन सामान्य हो रहा है।

देश में कुल संक्रमितों की संख्या का महज 2.78 फीसदी संक्रमित

भारत में कोरोना वायरस के मामले एक करोड़ एक लाख 70 हजार के करीब पहुंच चुके है। जिसमें से करीब 97 लाख 40 हजार मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके है, जबकि एक लाख 47 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। देश में वर्तमान समय में दो लाख 80 हजार से ज्यादा कोरोना के एक्टिव केस है, यानी की कुल संक्रमित के महज 2.78 प्रतिशत लोग संक्रमित रह गए है। पिछले 24 घंटे में देश में 23,444 नए केस सामने आए है।

Related Articles