अब ई-रिक्शा लर्निंग लाइसेंस के लिए अपॉइंटमेंट की जरूरत नहीं, जानें नियम

नई दिल्ली: ई-रिक्शा ( E-Rickshaw ) को लेकर दिल्ली सरकार ( Delhi Government ) ने बड़ा फैसला लिया है। अब दिल्ली में ई-रिक्शा के लिए लर्निंग लाइसेंस ( Learning license ) आवेदक सीधे लाइसेंसिंग अथॉरिटी से संपर्क कर सकतें हैं। ई-रिक्शा लर्निंग लाइसेंस के लिए अब अपॉइंटमेंट ( Appointment ) की जरूरत नहीं होगी। इसके अलावा इलेक्ट्रिक वाहनों ( Electric Vehicles ) को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने कहा है कि हर ई-रिक्शे की खरीद पर 30 हजार रुपये की सब्सिडी दी जाएगी।

दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग ( Transport Department ) ने एक आदेश जारी कर कहा है कि आवेदक ऑनलाइन सॉफ्टवेयर ( Online Software ) सारथी ( Sarthi ) के माध्यम से फीस जमा करने के बाद सभी कार्य दिवस पर दोपहर 2 बजे से 4 बजे के बीच संबंधित जोन के लाइसेंसिंग अथॉरिटी से सीधे संपर्क कर सकते हैं। परिवहन विभाग ने इस संबंध में आधिकारिक आदेश जारी कर दिया है।

RTO में भी किए बदलाव

दिल्ली सरकार ने पिछले कुछ महीनों में सभी जोनल कार्यालयों/क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों (RTO) के संचालन के तरीके में ऐतिहासिक बदलाव किए हैं। जिसके अंतर्गत वाहन पंजीकरण प्रमाण पत्र (RC) और लाइसेंस से संबंधित अन्य गतिविधियों के लिए फेसलेस सेवाएं शुरू की जा रही हैं। फिलहाल अभी इन फेसलेस सेवाओं का परीक्षण चल रहा है। विभाग अगले कुछ महीनों में 70 अन्य आवश्यक सेवाओं को दो चरणों में फेसलेस सेवाओं के अंतर्गत लाने की योजना बना रहा है। माना जा रहा है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में फिर से कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार का ये फैसला महत्वपूर्ण है।

वहीं दिल्ली परिवहन विभाग ने रविवार को भी आवेदकों को ड्राइविंग लाइसेंस (DL) टेस्ट में शामिल होने का विकल्प दिया है। ऐसा आमजनों, विशेष रूप से कामकाजी वर्ग की सुविधा के उद्देश्य से किया गया है, जिन्हें कार्य दिवस पर ड्राइविंग लाइसेंस टेस्ट देने में दिक्कत होती है।

इलेक्ट्रिक वाहनों को सरकार का बढ़ावा

दिल्ली सरकार की महत्वाकांक्षी ईवी पॉलिसी 2020 के तहत इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली सरकार हर ई-रिक्शे की खरीद पर 30 हजार रुपये की सब्सिडी प्रदान कर रही है। इसके अलावा दिल्ली सरकार ऐसे हर वाहन की खरीद पर दिल्ली फाइनेंस कॉर्पोरेशन (DFC) के माध्यम से कर्ज पर 5 फीसदी ब्याज में छूट देने की भी योजना बना रही है।

ये भी पढ़ें: West Bengal Elections: BJP जीती तो बंगाल में कौन बनेगा मुख्यमंत्री?

Related Articles

Back to top button