बेल्जियम: इस बार नहीं मनेगा ब्रसेल्स में नए साल का जश्न

paris attack

ब्रसेल्स। सारी दुनिया नए साल को मनाने के लिए बेकरार है लेकिन बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स में नए साल को लेकर कोई खुशी नहीं है। इस बार यहां कोई नए साल पर जश्न नहीं मनाएगा। ऐसा इसलिए है क्योंकि वहां पर आतंकी हमले का खतरा मंडरा रहा है।

सुरक्षा कारणों से लिया गया फैसला
बेल्जियम के प्रधानमंत्री चार्ल्स माइकल ने कहा है कि ये फैसला हमने सुरक्षा कारणों से लिया है। इस सप्ताह की शुरुआत में पुलिस ने आतंकी हमलों की साजिश रच रहे दो संदिग्ध आतंकियो को गिरफ्तार किया था। पेरिस में 13 नवंबर को हुए हमलों के बाद से बेल्जियम हाई अलर्ट पर है। ऐसा माना जा रहा है कि कई आतंकी बेल्जियम में छुपे हैं।

नए साल पर उमड़ती है भीड़
ब्रसेल्स के मेयर का कहना है कि आंतरिक मामलों के मंत्री की सलाह से हमने ये फैसला लिया है कि इस साल 31 दिसंबर को कोई जश्न नहीं मनाया जाएगा। उनका कहना है कि पिछले साल नए साल के जश्न में एक लाख लोग शामिल हुए थे। ऐसी स्थिति में हमारे लिए सभी की तलाशी ले पाना संभव नहीं है।

पेरिस हमलों की वजह से घोषित किया गया था बंद
पिछले महीने पेरिस हमलों की दहशत से ब्रसेल्स में चार दिन का बंद घोषित कर दिया गया था। जिसके चलते चार दिनों तक यूनिवर्सिटी, स्कूल और मेट्रो सिस्टम बंद थे।

बेल्जियम में आतंकी संगठनों का साथ देने वालों की संख्या ज्यादा
फ्रांस की राजधानी में हुई गोलीबारी और बमबारी में 130 लोगों की जान गई थी और सैंकड़ों घायल हुए थे। बेल्जियम और ब्रसेल्स पेरिस हमलों की जांच का केन्द्र बने। पेरिस हमलों के पीछे बेल्जियम निवासी अब्देल हामिद अबाउद और कई अन्य बेल्जियम मूल के लोगों का हाथ था। किसी अन्य यूरोपियन देश के मुकाबले आतंकी संगठन आईएस का साथ देने जाने वालों में बेल्जियम निवासियों की संख्या ज्यादा है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button