कोई नहीं कर सकेगा सोशल मीडिया अकाउंट हैक! अगर अपनाएंगे ये 5 सेफ्टी टिप्‍स,

वर्तमान में वॉट्सऐप, फेसबुक जैसे कई सोशल मीडिया प्लेटफार्म काफी लोकप्रिय हो रहे हैं. फेसबुक के स्वामित्व वाले प्लेटफॉर्म के दुनिया भर में 200 करोड़ से अधिक यूजर्स हैं. फ्रॉड करने वाले वाट्सऐप (WhatsApp) पर धोखाधड़ी के लिए आए दिन तरीके अपना रहे हैं. सरकार ने ‘साइबर दोस्‍त’ के जरिये ऐसे फ्रॉड से बचने के लिए कुछ महत्‍वपूर्ण टिप्‍स दिए हैं.

प्राइवेसी सेटिंग्‍स- वॉट्सऐप पर टू स्टेप वैरिफिकेशन कोड और फेसबुक पर प्राइवेसी सेटिंग्‍स का इस्‍तेमाल करें. अगर फोटो, वीडियो या अन्‍य किसी निजी जानकारी को सोशल मीडिया पर पोस्‍ट करते हैं तो तुरंत ही सेंटिंग्स में जाकर इसके एक्‍सेस को चेंज करें.

पर्सनल डेटा जैसे पता, फोन नंबर, आधार नंबर, फोटो को सोशल मीडिया पर शेयर करने से बचना चाहिए. इन डिटेल की मदद से हैकर्स आपको ब्‍लैकमेल कर सकते हैं. साथ ही सोशल मीडिया पर ऐसे पोस्‍ट करने से बचें.

फ्रेंड रिक्‍वेस्‍ट एक्‍सेप्‍ट करने में सावधान रहें सोशल मीडिया पर अनजान लोगों की फ्रेंड रिक्‍वेस्‍ट को एक्‍सेप्‍ट नहीं करें. ऑनलाइन फ्रेंड्स पर भरोसा नहीं करें जब तक आप असली जिंदगी में जानते न हों तब तक आपको ऑनलाइन फ्रेंड्स का भरोसा नहीं करना चाहिए.

हैकर्स फेक आईडी से फ्रेंड रिक्‍वेस्‍ट भेज सकते हैं साइबर अपराधी अक्‍सर अपने शिकार को फंसाने के लिए नकली सोशल मीडिया प्रोफाइल बनाते हैं. इनके जरिये पहले दोस्‍ती की जाती है. फिर लोगों की गोपनीय या निजी जानकारी निकाल ली जाती है.

अगर साइबर क्राइम का शिकार हो जाएं तो तुरंत इसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराएं. यह शिकायत नेशनल साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल/पुलिस पर दर्ज कराई जा सकती है. जालसाज से जो भी बातचीत हुई हो, उसे भी कहीं साक्ष्‍य के लिए सेव कर लें.

Related Articles