दिल्‍ली में बंद होंगी ये लग्‍जरी गाडि़यां…!

0

supreme-court

नई दिल्‍ली। दिल्‍ली में प्रदूषण पर चले रहे बवाल के बीच सुप्रीम कोर्ट ने अहम आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा है कि 2000cc से ज़्यादा की डीज़ल गाड़ियों का रजिस्‍ट्रेशन दिल्‍ली में नहीं किया जाएगा। 2005 से पहले के पंजीकृत वाहनों को अप्रैल 2016 तक दिल्ली-NCR में बैन किया जा सकता है। दिल्‍ली-एनसीआर क्षेत्र में बाहर से आने वाले कमर्शियल वाहनों से लिया जाने वाला ग्रीन टैक्स अब 700 से बढ़ाकर 1300 रुपए किया जा सकता है। सुप्रीम कोर्ट का यह आदेश अमल में आया तो दिल्‍ली से लक्‍जरी गाडि़यां गायब हो जाएगी।

यहां पढ़ें : साफ करो दिल्‍ली की हवा, मिलकर लो क्रेडिट

कोर्ट ने कहा कि अमीर लोग लग्‍जरी गाडि़यों से वातावरण प्रदूषित नहीं कर सकते। कार डीलरों को भी कोर्ट ने लताड़ लगाई। कहा कि लोगों की जान पर बन आई है और आपको कार बेचने की पड़ी है। कोर्ट ने ऑड इवेन फाूर्मले पर कहा कि इसे किस तरह लागू किया जाएगा, यह देखना होगा। इससे फायदा होगा या सिर्फ कंफ्यूजन पैदा होगा, यह हम नहीं जानते।  मुख्‍य न्‍यायाधीश टीएस ठाकुर इस मामले की सुनवाई कर रहे थे।

एमिक्स क्यूरी हरीश साल्वे ने कहा कि साल 2000 से दिल्ली में वाहनों की संख्या 97 फीसदी बढ़ी है। दिल्ली में करीब 85 लाख वाहन हो गए हैं, जबकि लॉस एंजिलिस में 65 लाख, न्यूयॉर्क में 77 लाख वाहन  हैं। दिल्ली में डीजल की गाड़ियों संख्या 30 फीसदी बढ़ी है।

loading...
शेयर करें