Mumbai Police की क्षमता पर कोई भी नहीं उठा सकता सवाल: उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र ( Maharashtra ) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ( Chief Minister Uddhav Thackeray ) ने शुक्रवार को कहा कि कोई भी मुंबई पुलिस ( Mumbai Police ) की क्षमता पर सवाल नहीं उठा सकता है

मुंबई: महाराष्ट्र ( Maharashtra ) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ( Chief Minister Uddhav Thackeray ) ने शुक्रवार को कहा कि कोई भी मुंबई पुलिस ( Mumbai Police ) की क्षमता पर सवाल नहीं उठा सकता है और वह किसी को भी पुलिस की प्रतिष्ठा को धूमिल करने की अनुमति नहीं देंगे। कोरोना वायरस ( COVID-19 ) से लड़ने वाले पुलिस कर्मचारियों और लोगों के चुराये गये सामानों को पुलिस ( Police ) द्वारा बरामद किये जाने के बाद उसे वापस करने के लिए उद्धव ठाकरे आज मुंबई पुलिस आयुक्तालय गये थे। उद्धव ठाकरे ने बताया कि कोविड-19 महामारी से किस तरह पुलिस कर्मचारियों ने लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित की।

उद्धव ठाकरे ने मुंबई पुलिस के 150 वर्ष के इतिहास का हवाला देते हुए कहा कि पुलिस की उपलब्धियों की सूची का कोई अंत नहीं है। उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस की इतनी लंबी और शानदार परंपरा को कुछ लोग चाहे कितनी भी कोशिश कर लें, लेकिन वे पुलिस की छवि को धूमिल नहीं कर पाएंगे, अगर कोई प्रयास भी करता है, तो हम इसकी अनुमति नहीं देंगे, ठाकरे ने अप्रत्यक्ष रूप से बॉलीवुड की एक अभिनेत्री के संदर्भ में यह बातें कही।

ये भी पढ़ें : टीम इंडिया ( Team India ) के खिलाडियों ने इस धांसू अंदाज में मनाया नए साल का जश्न

इन सबकी मदद से राज्य में कोरोना वायरस को फैलने से रोका गया

उन्होंने पुलिस आयुक्त ( Commissioner OF police ) परम बीर सिंह और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में कहा कि जिन लोगों ने मुंबई पुलिस को बदनाम करने की कोशिश की थी, उन्हें पुलिस की उपलब्धियां भारी पड़ गईं। लॉकडाउन ( Lockdown ) के दौरान, हमने सभी से घर से काम करने का अनुरोध किया था। कल्पना करें कि अगर पुलिस ने भी ऐसा किया होता तो क्या होता, यह पुलिस और अन्य स्वास्थ्य और सुरक्षाकर्मियों के कारण ही राज्य में कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सका। उन्होंने आगाह किया कि अब भी कोविड-19 का खतरा कायम हैं और महामारी अभी खत्म नहीं हुई है लेकिन कुछ जगहों को बंद रखने के लिए कुछ लोग सरकार की आलोचना करते हैं।

Related Articles

Back to top button