नामांकन कक्ष में दिखी सत्ता की हनक

hanakइलाहाबाद। जिला पंचायत अध्यक्ष के नामांकन के दौरान सत्ता की हनक साफ तौर पर नजर आई। नामांकन परिसर में प्रवेश से लेकर नामांकन कक्ष तक सपा प्रत्याशी और उनके समर्थकों को कोई रोकने वाला नहीं था। सत्ता की हनक यहां तक दिखी की  रिटर्निग अफसर के कक्ष में ही सपा प्रत्याशी को फूलमालाओं से स्वागत  हुआ।
सुरक्षा व्यवस्था ध्वस्त
नामाकन के दौरान सुरक्षा इंतजाम की किसी ने परवाह नहीं की। कैंपस में जहां अधिवक्ताओं का प्रवेश भी जांच के बाद बंद कर दिया जाता था। वहीं सपा प्रत्याशी के पहुंचते ही आम कार्यकर्ताओं के लिए भी द्वार खुल गए। प्रत्याशी, प्रस्तावक, अनुमोदक, विधायकगणों सहित सभी
को प्रवेश मिल गया। स्वागत के लिए फूल मालाएं लेकर आम कार्यकर्ता भी दर्जनों की संख्या में भीतर प्रवेश कर गए। ये कार्यकर्ता बाकायदा रिटर्निग अफसर के कक्ष में पहुंचे और वहां नामांकन के बाद फूलमालाओं से सपा प्रत्याशी का स्वागत किया।
मूकदर्शक बने  रहे अधिकारी
रिटर्निग अफसर बीएल सरोज व एडीएम नजूल सहित तमाम अधिकारी तमाशा देखते रहे। किसी ने टोकने की जहमत नहीं उठाई। जब बसपा का दल पहुंचा तो वही पुलिस प्रशासन बेहद सख्त नजर आया। पार्टी के पदाधिकारियों को भी बेहद मशक्कत के बाद भीतर प्रवेश मिला। फूलमालाएं लेकर आए कार्यकर्ताओं को तो दूर ही रोक दिया गया।
क्या कहें जिम्मेदार
इस मुद्दे पर सहायक निर्वाचन अधिकारी बीएल सरोज का कहना है कि कक्ष में प्रत्याशी को माला पहनाने से आचार संहिता का उल्लंघन नहीं हुआ है। हमारा काम शांतिपूर्ण तरीके से नामांकन कराना है और नामांकन शांतिपूर्ण ही रहा। वहीं सीओ कर्नलगंज का कहना है कि परिसर में प्रत्याशी के साथ कितने लोग अंदर जाएंगे, इस बारे में प्रशासन की ओर से कोई दिशा निर्देश नहीं दिए गए थे। पुलिस शांति व्यवस्था बना कर रख रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button