कैबिनेट मंत्री हरक सिंह के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

उत्तराखंड। उत्तराखंड अदालत ने कैबिनट मंत्री हरक सिंह के साथ 6 लोगों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। खबरों की माने कई बार समन भेजने के बावजूद कोर्ट में पेश न होने की वजह से उनके खिलाफ यह कदम उठाया गया है। इस आरोप में कैबिनट मंत्री के साथ कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय समेत छह आरोपियों भी शामिल है। साथ ही शुक्रवार को खुद को सरेंडर करने वाले नेताओं को कोर्ट ने जमानत भी दे दी है।

क्या है मामला-
इन लोगों पर आरोप है कि इन नेताओं ने पुलिस के साथ धक्का मुक्की, मारपीट और पथराव जैसी हरकत की थी। जिसके बाद इन लोगों पर शिकायत दर्ज की गई थी। आरोप है कि कई बार कोर्ट ने इन लोगों को नोटिस भी भेजा लेकिन आरोपी अनुपस्थित रहें। सात अप्रैल को न्यायालय ने हरक सिंह, सुबोध उनियाल समेत 25 आरोपियों के खिलाफ जमानती वारंट जारी किए थे।

मिली जानकारी के मुताबित कोर्ट द्वारा वारंट जारी होने के बाद इन नेताओं ने जमानत भई करवा ली थी। जमानत करवाने वालों में कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य, सुबोध उनियाल, विधायक कुंवर प्रणव सिंह, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह, पूर्व कैबिनेट मंत्री हीरा सिंह बिष्ट, दिनेश अग्रवाल, प्रदीप टम्टा, मनीष नागपाल और महेशानंद शर्मा जैसे नामी नेता शामिल हैं।

वहीं लालचंद शर्मा, विजय सिंह चौहान, विकास चौधरी, सतपाल ब्रह्मचारी, ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी, अशफाक रावत और ट्विंकल अरोड़ा ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एमएम पांडेय के सामने खुद को सरेंडर कर दिया था। जिसके बाद इन लोगों को 25 25 हज़ार रुपए की जमानती देकर जमानत दे दी गई थी।

साथ ही एसएसपी निवेदिता कुकरेती को वारंट तामील कराने के निर्देश भी दिए। मामले की अगली सुनवाई अगली चार मई को होगी।

Related Articles