उत्तर कोरिया ने की अमेरिका द्वारा लगाए गए नए प्रतिबंधों की आलोचना

0

प्योंगयांग: उत्तर कोरिया ने अमेरिका द्वारा लगाए गए नए प्रतिबंधों की आलोचना करते हुए द्विपक्षीय संबंधों में सुधार के प्रयासों पर सकारात्मक रुख अपनाने का आह्वान किया है। कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के हवाले से गुरुवार को बताया कि उत्तर कोरिया सिंगापुर में अमेरिका और प्योंगयांग के शीर्ष नेताओं के बीच हुए समझौतों को लागू करने के अपने रुख पर कायम है।

सिन्हुआ के अनुसार, प्योंगयांग ने आशा व्यक्त की थी कि परमाणु परीक्षण और अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) परीक्षण को रोकने व परमाणु परीक्षण स्थलों को नष्ट करने जैसे सद्भावना उपाय संबंधों में सुधार करने में योगदान करेंगे।

बयान के अनुसार, अमेरिका ने हमारी उम्मीदों का जवाब उत्तरी कोरिया के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों और दबाव को बढ़ाकर दिया है।

इस महीने के शुरू में अमेरिकी वित्त विभाग ने रूस के एक व्यावसायिक बैंक सहित एक शख्स और तीन कंपनियों पर उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रमों के साथ कथित संबंध होने की वजह से प्रतिबंधों का ऐलान किया था।

उत्तर कोरिया के प्रवक्ता ने कहा, “ऐसी कदमों के साथ कोई भी उत्तरी कोरिया-अमेरिका के संयुक्त बयान के कार्यान्वयन में किसी भी प्रगति की उम्मीद नहीं कर सकता, जिसमें परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया शामिल है। इसके अलावा इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि कोरियाई प्रायद्वीप पर स्थिरता का माहौल बना रहेगा।”

loading...
शेयर करें