अब चीन- पाकिस्तान सावधान, दुनिया की सबसे बड़ी डिफेंस डील करने जा रहा भारत

नई दिल्ली। चीन और पाकिस्तान से घटते-बढ़ते तनावों को देखते हुए अब भारत दुनिया की सबसे बड़ी डिफेंस डील करने जा रहा है। एयरफोर्स के बेड़े में 110 फाइटर प्लेन शामिल करने के लिए सरकार ने टेंडर प्रोसेस शुरू कर दी है। एयरफोर्स ने फाइटर जेट्स की खरीद के लिए शुक्रवार को दुनियाभर की कंपनियों से आवेदन मांगते हुए “रिक्वेस्ट फॉर इन्फॉर्मेशन’ जारी किया। इसपर 1.15 लाख करोड़ रुपए की लागत का अनुमान है।

जानकारी के मुताबिक, फाइटर जेट्स को मेक इन इंडिया के तहत बनाया जाएगा। इन्हें बनाने में इंटरनेशनल कंपनी के साथ एक इंडियन कंपनी भी शामिल रहेगी। इस के तहत इंडियन कंपनियों को फॉरेन से हाई लेवल की सिक्यूरिटी टेक्नोलॉजी मिलने में आसानी होगी।

कहा जा रहा है कि दुनिया की कुछ बेहतरीन एयरक्राफ्ट कंपनियां टेंडर हासिल करने के लिए आगे आ सकती हैं। इनमें सबसे आगे बोइंग और लॉकहीड मार्टिन के नाम हैं। ये दोनों कंपनियां पहले ही इंडिया में फाइटर जेट्स बनाने का प्रस्ताव दे चुकी हैं। हालांकि, डसॉल्ट और साब जैसी कंपनियां भी टेंडर की होड़ में शामिल रहेंगी।

सूत्रों के अनुसार भारतीय वायुसेना के पास अभी जरूरत की 39 स्क्वाड्रन के मुकाबले सिर्फ 32 कॉम्बैट स्क्वाड्रन हैं। एक स्कवाड्रन में करीब 16 से 18 फाइटर जेट्स होते हैं। योजना के मुताबिक, स्क्वाड्रन्स को बढ़ाकर 42 किया जाना है। यानी अभी वायुसेना को करीब 112 फाइटर जेट्स की जरूरत है।
बता दें, कि बीते कुछ सालों में ये किसी भी देश की ओर से ये एयरक्राफ्ट्स का सबसे बड़ा ऑर्डर हैं। अगर ये सौदा होता है तो ये दुनिया का सबसे बड़ा रक्षा सौदा भी होगा।

 

Related Articles