अब आजम खान की पत्नी और बेटों पर दर्ज हुई FIR, सरकारी जमीन कब्जा करने का आरोप

0

रामपुर: आज़म खान की पत्नी तंज़ीन फ़ातिमा और दोनो बेटों अब्दुल्लाह आज़म और अदीब आज़म के खिलाफ हमसफर रिसोर्ट के लिए सरकारी जमीन कब्जा करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है. राज्यसभा सदस्य तंजीन फातिमा, विधायक अब्दुल्लाह आजम और आजम खान के बड़े बेटे अदीब आजम पर धारा 447 और सार्वजनिक संपत्ति नुकसान अधिनियम की धारा 2 और 3 के तहत मामला दर्ज किया गया है. बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने जिला अधिकारी से शिकायत की थी जिस पर जांच के बाद नायब तहसीलदार कृष्ण गोपाल मिश्रा ने यह मुकदमा दर्ज कराया है.

इसके पहले आजम खान की पत्नी सांसद तंजीन फातिमा और उनके दोनों बेटों को पुलिस ने नोटिस जारी किया था. इन पर किसानों की जमीन पर जबरन कब्जा करके उसे मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी की चारदीवारी के अंदर मिलाने का आरोप है. उनके घर पर नोटिस भी चस्पा किया गया था.”

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार सिंह ने कहा था कि जौहर अली ट्रस्ट के सभी सदस्यों को नोटिस दिया गया है. पुलिस ने तीनों को जमीन घोटाला मामले में पूछताछ के लिए बुलाया है. पुलिस ने इसके लिए तीनों को तीन दिन का समय दिया है.

हाल ही में उनके लक्जरी रिजॉर्ट में बिजली और पानी की चोरी भी पकड़ी गई. इससे पहले इसी रिजॉर्ट के लिए सिंचाई विभाग की जमीन कब्जाने का मामला भी सामने आया था. जिसके बाद प्रशासन ने एक दीवार को गिरा दिया था. इस दीवार से पुरानी ईंटे निकली थीं जिनकी जांच प्रशासन ने कराई थी.

इससे पहले आजम खान पर भैंस चोरी, किताबें चोरी, मूर्ति चोरी जैसे मामले भी दर्ज कराए गए हैं. यही नहीं जबरन जमीनों पर कब्जा करने, पेड़ काटने जैसे मामले भी उन पर दर्ज हैं. करीब 81 केस आजम खान के खिलाफ दर्ज किए जा चुके हैं.उन्हें भूमाफिया घोषित किया जा चुका है. आजम के समर्थन में सपा नेताओं ने प्रदर्शन भी किया था, अखिलेश यादव ने विरोध भी जताया था और हाल ही में मुलायम सिंह यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की थी.फिलहाल आजम खान कहां हैं कोई नहीं जानता लेकिन उन पर गिरफ्तारी का खतरा मंडरा रहा है. उनके परिवार के लोग और समाजवादी पार्टी के नेता सत्ताधारी बीजेपी पर आरोप लगा रहे हैं लेकिन बीजेपी नेताओं ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है.

loading...
शेयर करें