अब सिनेमाघरों में सामान्य दाम पर मिलेंगी खाने-पीने की चीजें, नहीं पड़ेगा जेब पर बोझ : कोर्ट

0

मुंबई। बड़े- बड़े मल्टीप्लेक्सों जब हम फिल्म देखने जाते हैं तो वहां पर मिलने वाली खाने- पीने की चीजें बाहर के दामों से कहीं ज्यादा होती हैं। इसलिए या तो हम फिल्म देखने के दौरान कुछ नहीं खाते और अगर खाना पड़ा तो जेब की बैंड बज जाती है। लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं क्योंकि बॉम्बे हाईकोर्ट ने मल्टीप्लेक्स में मनमाने दाम पर बेची जाने वाली खाद्य सामग्री, पानी की बोतल पर रोक लगा दी है।

मल्टीप्लेक्स में मनमाने

जी हां, अब वहां पर भी सामान्य दाम पर ही खाने- पीने की चीजें बेचे जाने के निर्देश दिए हैं। कोर्ट के निर्देश के बाद महाराष्ट्र सरकार ने इस पर जल्द ही नई नीति बनाने का भरोसा दिया है। न्यायमूर्ति एसएम केमकर और एमएस कार्णिक की पीठ ने बुधवार को जैनेंद्र बक्सी की ओर से दायर पीआईएल पर सुनवाई की। बक्सी ने मल्टीप्लेक्स थियेटर में बाहर से पानी या अन्य वस्तु ले जाने पर लगी रोक और थियेटर के अंदर मनमानी कीमत पर बेची जा रही वस्तुओं को लेकर जनहित याचिका दाखिल की है। याचिकाकर्ता के वकील आदित्य प्रताप सिंह ने कोर्ट को बताया कि मल्टीप्लेक्स में मनमानी जारी है, जबकि कानूनन इस तरह का कोई प्रावधान नही है।

इस पर सहमति जताते हुए न्यायमूर्ति केमकर ने कहा, ‘‘ सिनेमाघरों के भीतर बिकने वाले खाने के सामान और पानी की बोतलों की कीमत वास्तव में बहुत ज्यादा होती है। हमने खुद ही यह अनुभव किया है। आपको (मल्टीप्लेक्सों को) इन्हें सामान्य कीमतों पर बेचना चाहिए।’’

न्यायालय ने कहा कि यदि मल्टीप्लेक्सों में लोगों को बाहर से लाई गई खाने- पीने की चीजें अंदर नहीं ले जाने दिया जाता तो वहां खाने-पीने के सामान पर पूरी मनाही होनी चाहिए।

राज्य सरकार जल्द ही इसपर कोई नीति बनाने तैयार करेगी। इस मामले में अगली सुनवाई 12 जून हो होगी।

 

 

loading...
शेयर करें