अब तेरा क्या‍ होगा… पाकिस्तान

31158-modilahore-1451381221-853-640x480नई दिल्ली। अभी 25 दिसंबर को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्‍तान से रिश्‍ते सुधारने के लिए लाहौर गए थे। लेकिन नए साल के दसरे ही दिन पाकिस्‍तान ने अपनी नियत साफ कर दी है। पठानकोट के एयरफोर्स स्‍टेशन पर हुआ आतंकी हमला इस बात का जीता जागता उदाहरण है। माना जा रहा था कि पीएम के इस दौरे के बाद दोनों देशों के रिश्‍तों में बीते दिनों आई कड़वाहट थोड़ी कम होगी। वहीं पिछले एक दशक में किसी भारतीय पीएम का यह पहला पाकिस्‍तान दौरा था। वहीं इस हमले के बाद अब फिर से दोनों देशों के रिश्‍तों पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं।

ये भी पढ़ें- आखिर क्योंं इतना अहम है पठानकोट?…

14-15 जनवरी को होनी है विदेश सचिव स्तरीय वार्ता

मोदी के लाहौर दौरे के बाद तय हुआ कि 14-15 जनवरी को दोनों मुल्कों के बीच विदेश सचिव स्तरीय वार्ता होगी। सुरक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक अब दोनों मुल्कों के सामने सबसे बड़ी रणनीतिक चुनौती यही है कि शांति बहाली के जो प्रयास शुरू हुए हैं, उन पर ऐसी आतंकी घटनाओं का असर न पड़ने पाए और रिश्तों में बनी नई गर्माहट जारी रहे। फिलहाल विदेश मंत्रालय ने इस बारे में कुछ नहीं कहा है कि यह वार्ता अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक होगी या नहीं।

ये भी पढ़ें- #Pathankot एयरफोर्स स्टेशन पर आतंकी हमला, चारों आतंकी ढेर, द…

और बढ़ेगी राजनीति

विपक्ष ने मोदी के दौरे को लेकर पहले ही सवाल उठाए थे और कहा था कि यह राष्ट्रहित में नहीं है। अब कांग्रेस इसे दोबारा मुद्दा बनाएगी और पीएम मोदी को घेरने की कोशिश करेगी। इससे घरेलू राजनीति का बढ़ना तय है। इससे पहले बैंकॉक में दोनों मुल्कों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैंकॉक में हुई बैठक पर भी सवाल उठाए गए थे। पूछा गया था कि क्या बदला है जो पाकिस्तान से दोबारा बातचीत शुरू की गई।

ये भी पढें- सेना की वर्दी में घुसे आतंकी, हो सकता था बड़ा नुकसान…

आपको बता दें कि 31 दिसंबर को ये आतंकी पाकिस्‍तान से भारत की सीमा में घुसे थे। उन्होंने एक और दो जनवरी की रात को करीब तीन बजे पठानकोट एयरफोर्स स्‍टेशन को निशाना बनाया। सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में चार आतंकियों को मार गिराया गया है। हालांकि सूत्र बता रहे हैं कि पाकिस्‍तान की सीमा से 5 से 6 आतंकी भारत की सीमा में दाखिल हुए थे। सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन अभी जारी है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button