IPL
IPL

Sputnik V :अब देश खुद तैयार करेगा वैक्सीन की 85 करोड़ डोज़ेज़

नई दिल्ली : रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फण्ड ने हाल ही में जारी अपने बयान में कहा की अब भारत में हर साल Sputnik V वैक्सीन के 85 करोड़ से ज़्यादा डोज़ तैयार होंगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हाल ही में भारत ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए स्पूतनिक के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दी है।

Sputnik को मिल चुकी है मंज़ूरी

रूस में क्लिनिकल ट्रायल पूरी कर चुकी स्पूतनिक भारत में ट्रायल के तीसरे दौर में है। डॉ. रेड्डीज फार्मा के साथ मिलकर किए गए इस ट्रायल में पॉजिटिव नतीजे आये हैं। RDIF ने एक बयान जारी कर बताया कि भारत स्पुतनिक को मंजूरी देन वाला दुनिया का 60वां देश है। बयान में यह भी कहा गया कि आबादी के लिहाज से भारत इस वैक्सीन को अपनाने वाला सबसे बड़ा देश है।

जानकारों की माने तो भारत में कुछ शर्तों के साथ हाल ही में इस के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंज़ूरी मिली है। आपकी जानकारी के लिए बता दें की स्पूतनिक कोरोना वायरस के खिलाफ भारत में इस्तेमाल की जाने वाली तीसरी वैक्सीन है। इससे पहले जनवरी में पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा तैयार की गई ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के इमरजेंसी यूज़ को मंजूरी मिल चुकी है। रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फण्ड के सीईओ किरिल दिमित्रिव ने दिए अपने बयान में कहा की भारत से वैक्सीन को मंज़ूरी मिलना स्पूतनिक के लिए एक बड़ा मील का पत्थर है। इसी के साथ साथ उन्होंने कहा कि रूसी वैक्सीन का असर 91.6 प्रतिशत तक है और ये कोविड-19 के सीरियस केसेज़ में काफी कारगर है।

यह भी पढ़ें : ठाकरे की इन बंदिशों के बावजूद नहीं ठहरेगा Maharastra , पढ़ें पूरी खबर

Related Articles

Back to top button