अब किसी भी कक्षा में पढ़ाने के लिए TET अनिवार्य, जानिए नवोदय ने क्या कहा

शिक्षक पात्रता परिक्षा अब किसी भी कक्षा में पढ़ाने के लिए अनिवार्य होगा। इसे पास किए बगैर आप सरकारी स्कूलों में नहीं पढ़ा सकते है। राष्ट्रीय राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) के तहत नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन ने यह फैसला किया है।

नई दिल्ली: शिक्षक पात्रता परिक्षा अब किसी भी कक्षा में पढ़ाने के लिए अनिवार्य होगा। इसे पास किए बगैर आप सरकारी स्कूलों में नहीं पढ़ा सकते है। राष्ट्रीय राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) के तहत नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन ने यह फैसला किया है। अब शिक्षक बनने के लिए TET पास करना अनिवार्य है। आपको बता दें पहली कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा तक के शिकक्षकों के लिए टेट की परिक्षा अनिवार्य कर दी गई है।

एनसीटीई (NCTI) ने एजुकेशन को अपग्रेड करने के लिए शिक्षकों की परिक्षा को अनिवार्य किया है। एनसीटीई (NCTI) ने इसके लिए दिशानिर्देश व टेस्ट पैटर्न तैयार करने के लिए कमिटी गठित कर दी है। इस परिक्षा को अनिवार्य करने के कई कारण है जिस में केंद्रीय विद्धालय संगठन ने भी सराहा है। नई शिक्षा नीती ने विद्यार्थीयों के लिए कई सारे प्रक्रिया में बदलाव लाए है। अब शिक्षकों को भी अच्छा और बेहतर तकनीकी शिक्षा परिषद की ओर से प्रक्रिया में कई बदलाव लाएंगे।

यह भी पढ़े: जैकलीन फर्नाडीज ( Jacqueline Fernandez ) राजस्थानी खाने की क्यों हो गई दीवानी

यूएन खावरे (UN Khaware) ने कहा

एनसीटीई (NCTI) केंद्रीय विद्यालय संगठन (KVS) के रिटायर्ड एडिशनल कमिश्नर और नवोदय विद्यालय समिति (NVS) के सलाहकार यूएन खावरे (UN Khaware) ने कहा कि ‘इस फैसले से टीचर एजुकेशन के क्षेत्र में हो रहे फर्जीवाड़ों पर लगाम लगाया जा सकेगा। देश में हजारों बीएड (B.Ed) कॉलेज हैं। गलत तरीके से इनसे बीएड की डिग्री ले लेना आम बात हो गई है। टीईटी अनिवार्य होने से अच्छे शिक्षक चुनकर आएंगे।’

यह भी पढ़े:  Paris Hilton ने अपने प्रेमी के साथ की सगाई, जानिए कौन है उनका प्रेमी

Related Articles

Back to top button