अब देश की बेटियां भी NDA की ट्रेनिंग में शामिल हो सकेंगी

नई दिल्ली: NDA में सेलेक्ट होना हर युवा भारतीय का सपना होता है। चाहे वो लड़का हो या लड़की, अब इस सपने को हमारे देश की बेटियां भी पूरा कर सकेंगी। उन्हें इस साल पहली बार इस NDA परीक्षा में बैठने का अवसर मिल रहा है। इसको लेकर देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने खुशी जताई है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एससीओ-अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार में ‘सशस्त्र बलों में महिलाओं की भूमिका’ भूमिका विषय पर बोलते हुए कहा कि मुझे आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि अगले साल से महिलाएं हमारे तीनों सेनाओं के प्रशिक्षण संस्थान, NDA में शामिल हो सकेंगी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि ”सैन्य़ बलों में महिलाओं को शामिल करना पिछले साल शुरू हो गया है जो एक प्रमुख मील का पत्थर है जिसमें महिलाओं को सेना के रैंक और फाइल में शामिल किया गया है।”

सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने दी थी अनुमति

पिछले महीने सितंबर में सुप्रीम कोर्ट द्वारा महिला अभ्यर्थियों को NDA की परीक्षा में बैठने की अनुमति का फैसला लैंगिक समानता के मोर्चे पर एक अहम और अच्छा निर्णय रहा था। बेटियों की शिक्षा और सेना में लैंगिक विभेद मिटाने की एक नई लकीर खींचने वाले इस निर्णय में उच्चतम न्यायालय ने महत्वपूर्ण अंतरिम आदेश जारी करते हुए महिला उम्मीदवारों को NDA की परीक्षा में सम्मिलित होने की छूट दी और कहा कि सेना खुद भी खुलापन दिखाए।

यह भी पढ़ें: अयोध्या: दुर्गा पूजा पंडाल फायरिंग के दौरान 1 की मौत

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles