अब राज्य की स्वास्थ्य सेवाएं होंगी बेहतर, योगी सरकार ने दी प्रोजेक्ट को हरी झंडी

UP में अब दो और नए मेडिकल कॉलेज की सौगात मिलने जा रही है

योगी सरकार स्वास्थ्य को लेकर अब पूरी तरह से सतर्क नजर आ रही है. UP की जनता को दो और मेडिकल कॉलेजों का तोहफा जल्द ही मिलने जा रहा है और इससे राज्य में स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर होंगी. खासबात ये है कि ये मेडिकल कॉलेज निजी क्षेत्र की भागीदारी से बनाए जाएंगे. राज्य सरकार 16 जिलों में पीपीपी मोड (पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप) में मेडिकल कॉलेज खोलने की योजना बना रही है और अब राज्य के दो जिलों के लिए निजी निवेशकों ने सहमति दे दी है.

वन डिस्ट्रिक वन मेडिकल कॉलेज

बता दें महाराजगंज और संभल में पीपीपी मोड में मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए निजी निवेशकों द्वारा दिए गए प्रस्तावों को शासन ने हरी झंडी दे दी है. इसके लिए उन्हें एलओआई भी जारी कर दिया गया है.बताया जा रहा है कि निजी भागीदार द्वारा न्यूनतम 100 सीट वाले मेडिकल कॉलेज का निर्माण किया जाएगा और इसके बदले में सरकार निजी क्षेत्र को वित्तीय प्रोत्साहन देगी. राज्य सरकार वन डिस्ट्रिक वन मेडिकल कॉलेज की नीति पर काम कर रही है.

10 जिलों के लिए मिले 21 आवेदन

राज्य सरकार के मुताबिक पीपीपी मॉडल पर तैयार होने वाले मेडिकल कॉलेज के तहत 10 जिलों के लिए 21 आवेदन प्राप्त हुए हैं. वहीं इसके लिए पहले चरण में राज्य सरकार ने दो जिलों के लिए दो निजी भागीदारों के सहयोग से मेडिकल कॉलेज को स्थापित करने की मंजूरी दी है. जानकारी के मुताबिक महाराजगंज में शांति फाउंडेशन और संभल में सिद्धि विनायक ट्रस्ट ने इसके लिए प्रस्ताव दिए थे और इन प्रस्तावों को राज्य सरकार ने स्वीकार कर लिया है.

यह भी पढ़ें- CM योगी का पुलिसकर्मियों को बड़ा तोहफा, किया ये ऐलान
https://puridunia.com/big-gift-to-policemen/542322/
(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles