अब नीम की पत्तियों से होगा ब्रेस्ट कैंसर का इलाज, वैज्ञानिकों ने किया दावा

0

दुनिया में कई ऐसी बीमारिया हैं जिनका इलाज अगर समय रहते न हो तो वह विकराल रूप ले सकती हैं, और जानलेवा साबित हो सकती हैं। महिलाओं के संदर्भ में बात करें तो कई ऐसी बीमारियां जन्म ले रहीं हैं जिनसे उनकी जान-माल को खतरा हो सकता है। महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर की बीमारी तीजी से बढ़ती चली जा रही है। जिसके इलाज के लिए लोगों को काफी खर्च उठाना पड़ता है, लेकिन क्या आप जानते हैं की ब्रेस्ट कैंसर का इलाज अब सिर्फ नीम की पातियों से किया जा सकता है।

अब नीम की पत्तियों से होगा ब्रेस्ट कैंसर का इलाज, वैज्ञानिकों ने किया दावा

जी हां, भारत ने एक बड़ी उपलब्धि प्राप्त की है। जिसमे अब ब्रेस्ट कैंसर का इलाज नीम की पत्तियों और फूलों से संभव है। ब्रेस्ट कैंसर के बारे में महिलाओं को जानकारी न होने के कारण उन्हें इसके बारे में काफी बाद में पता चलता है, जिसके कारण उनका सही तरह से इलाज नहीं हो पाता है। यही वजह है कि कुछ महिलाओं की मौत का कारण ब्रेस्ट कैंसर बन जाता है।

वैज्ञानिकों के अनुसार और हैदराबाद के राष्ट्रीय औषधीय शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (NIPER) के वैज्ञानिकों ने इस बात की पुष्टि की है कि नीम की पत्तियों और फूल में पाए जाने वाले तत्व निमबोलिड से ब्रेस्‍ट कैंसर का इलाज किया जा सकता है।

बीएस अब इसकी रिसर्च और टेस्ट बाकी है। इस परीक्षण के बाद वैज्ञानिक चंद्ररैयाह गोडुगू का कहना कि इसके बाद भी अभी और रिसर्च और क्लीनिकल टेस्ट किए जाने के बाद ही इसका प्रयोग आम लोगों के लिए होगा।

रिसर्च और क्लीनिकल टेस्ट के लिए रुपयों के लिए वह लोग जैवप्रौद्योगिकी विभाग, आयुष और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी जैसी कई एजेंसियों से संपर्क में लगे हुए हैं।

दूसरी दवाओं के मुताबिक यह दावा काफी सस्ती रहेगी। इसके लिए वैज्ञानिक लगातार प्रयासरत हैं। नीम में पाया जाने वाला निमबोलिड नाम का तत्व ब्रेस्ट कैंसर को बढ़ने से रोकता है।

इसकी आगे की स्टडी क्लीनिकल टेस्ट की मदद से ही की जाएगी। साथ ही वैज्ञानिकों का यह भी दावा है कि यह भी हो सकता है कि ब्रेस्ट कैंसर के लिए यह दवा सबसे सस्ती दवा साबित हो सकती है। भारत में नीम बहुतायत मात्रा में पाई जाती है। आयुर्वेद में नीम को एक अहम जड़ीबूटी मानी गई है। नीम कई बड़ी बीमारियों के लिए रामबाण का काम करता  है।

तो अब ब्रेस्ट कैंसर के इलाज के लिए नीम के पत्तियों से बनी दवाओं से इलाज होगा ताकि समय रहते इस बीमारी को ठीक किया जा सके।

loading...
शेयर करें