अब वाई फाई कनेक्ट होने से पहले ही यूजर्स को पता चल जाएगी नेट की स्पीड, जानें कैसे

0

नई दिल्ली। दिग्गज कंपनी गूगल ने अपने यूजर्स को एक औऱ सुविधा प्रदान की है। इस बार गूगल ने एंड्रायड 8.1 ओरियो ऑपरेटिंग सिस्टम (ओएस) में ओपन नेटवर्क के लिए वाईफाई स्पीड लेबल जारी करना शुरू कर दिया है, जिससे यूजर्स को वाई फाई की स्पीड का पहले ही पता चल जाएगा और वे यह फैसला कर सकेंगे कि किस नेटवर्क से वाईफाई को कनेक्ट करना है।

बता दें कि एंड्रायड के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से मंगलवार को ट्वीट कर बताया गया कि सार्वजनिक वाईफाई की स्पीड में असमानता हो सकती है। पहली बार एंड्रायड ओरियो अपने यूजर्स को किसी वाईफाई नेटवर्क से कनेक्ट करने से पहले उसकी स्पीड का अंदाजा लगाने की सुविधा प्रदान करेगी। यह लेबल्स उपलब्ध वाईफाई कनेक्शन की सूची में नेटवर्क को चार श्रेणियों में बांट कर दिखाएगा। ये श्रेणियां हैं – स्लो, ओके, फास्ट और वेरी फास्ट।

स्लो, ओके, फास्ट और वेरी फास्ट कैसे होगा इंडिकेट

स्लो का मतलब है कि फोन पर कॉल और मैसेज भेजा जा सकता है, लेकिन इंटरनेट सर्फिग मुश्किल है। ओके का मतलब है कि इतनी स्पीड है कि वेबपेज पढ़े जा सकते हैं, सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया जा सकता है और म्यूजिक स्ट्रीमिंग भी की जा सकती है।

वहीं, फास्ट का मतलब है कि इंटरनेट से वीडियो चलाई जा सकती है और वेरी फास्ट का मतलब है कि बहुत ही उच्च गुणवत्ता के वीडियोज भी इंटरनेट से सीधे देखे जा सकते हैं। जो यूजर्स इस सुविधा का प्रयोग नहीं करना चाहते हैं, वे सेटिंग्स में जाकर इसे बंद कर सकते हैं।

loading...
शेयर करें