NSG में नाकामी को लेकर चिंतित नहीं है भारत, हमारी कोशिशें रहेंगी जारी

0

नई दिल्‍ली। परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (NSG) की सदस्यता को लेकर भारत ने फिलहाल अपनी कोशिशें जारी रखी हैं। वहीं, हालिया मुश्किलों से इस मुहिम पर कोई असर नहीं पड़ा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नाकामी को लेकर भारतीय कूटनीति अधिक चिंतित नहीं होती है।

NSG

NSG में टाला नहीं जा सकता भारत का दावा

स्वरूप ने कहा कि एनएसजी की सदस्यता को लेकर की जा रही हमारी कोशिशें जारी हैं। वहीं भारत और पाकिस्तान की कोशिशें अलग-अलग हैं। सदस्यता हासिल करने के लिए भारत की दावेदारी और ट्रैक रिकॉर्ड नजरअंदाज नहीं की जा सकती। यह बिल्कुल सही है।

भारतीय लोगों की भावना समझे चीन

उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश चीन को भारतीय जनता की भावनाओं को समझना चाहिए। हम चीन को मनाने की कोशिश भी कर रहे हैं। स्वरूप ने कहा कि देश की एनएसजी सदस्यता के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसीलिए इतनी गंभीर कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि वह परमाणु ऊर्जा के महत्व के बारे में जानते हैं।

ऊर्जा संरक्षण के लिए चाहिए एनएसजी की सदस्यता

स्वरूप ने कहा कि एमटीसीआर और एससीओ में भारत के शामिल होने के बाद हमें इस बात का यकीन है कि जल्द ही NSG की सदस्यता भी हासिल कर लेंगे। हम इसके लिए कोशिश करते रहेंगे। यह सारी कोशिश ऊर्जा संरक्षण और स्वच्छ ऊर्जा के लिए की जा रही है।

loading...
शेयर करें