गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर जिलों के ओसीआई कार्डधारकों को अब लखनऊ नहीं जाना पड़ेगा

इस निर्णय से इन दोनों जिलों में रहने वाले ओसीआई कार्डधारकों को काफी राहत मिलेगी और उन्हें विभिन्न सेवाओं के आवेदन के लिए लखनऊ नहीं जाना पड़ेगा.

नयी दिल्ली: उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद जिलों में ठहरने वाले भारतीय मूल के विदेशी नागरिक (ओसीआई कार्ड धारक) अब दिल्ली स्थित विदेशी क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय में विभिन्न सेवाओं के लिए आवेदन कर सकेंगे.

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए इन दोनों जिलों को ओसीआई कार्डधारकों की विभिन्न सेवाओं के संदर्भ में दिल्ली स्थित विदेशी पंजीकरण कार्यालय (एफआरआरओ) के दायरे में लाने से संबंधित आदेश दिया है. अभी तक ये दोनों जिले लखनऊ एफआरआरओ के दायरे में थे.

इस निर्णय से इन दोनों जिलों में रहने वाले ओसीआई कार्डधारकों को काफी राहत मिलेगी और उन्हें विभिन्न सेवाओं के आवेदन के लिए लखनऊ नहीं जाना पड़ेगा. ये दोनों जिले विदेशियों के संदर्भ में वीजा तथा अन्य सेवाओं के लिए पहले से ही दिल्ली कार्यालय के अंतर्गत आते हैं.

इसके अलावा एक अन्य निर्णय के तहत मंत्रालय ने केरल के तीन एफआरआरओ के क्षेत्राधिकार को स्पष्ट किया है जिससे ओसीआई कार्डधारकों को किसी तरह की दिक्कत न हो. अब कन्नून, कासरगौड, काेझिकोड, मालापुरम और वायनाड जिले कोझिकोड एफआरआरओ के तहत, अलपूझा, एरनाकुलम, इदुक्की, काेटाय्यम, पलक्कड और थिरिसुर और लक्षद्वीप कोच्चि एफआरआरओ के तहत तथा तिरूवनंतपुरम, कोल्लम और पथानमिथा अब तिरूवनंतपुरम एफआरआरओ के अंतर्गत आयेंगे.

यह भी पढ़े: डकैती व नकबजनी करने वाले गिरोह के नौ सदस्य लखनऊ से गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button