घोटाले की जांच कर रहे आधिकारी पर लगा प्रधान को बचाने का आरोप

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

बलिया: बलिया के ग्राम सभा बहेरी के एक शिकायतकर्ता ने प्रधान पर घोटाले का आरोप लगाते हुए जिला अधिकारी के साथ साथ कई अन्य अधिकारियों से प्रधान के 2015, से 2019, तक के कार्यकाल की जांच की मांग की. लोगों की मांग पर जिला अधिकारी ने जिला आपूर्ति अधिकारी के नेतृत्व में एक जाच टीम गठित कर जांच के आदेश दे दिए है.

आदेश मिलते ही जिला पूर्ति अधिकारी ने अपने टीम के साथ तत्काल ग्राम सभा बहेरी पहुंच प्रधान द्वारा किए गए कार्य की जमीनी स्तर पर घंटो जांच की. उन्होंने बताया की अभी तक के जांच में प्रधान द्वारा किए गए कार्य को सन्तोष जनक पाया गया है. कहा यहां चुनावी माहौल चल रहा है इस गांव में दोनों पछ के लोग मिल रहे है किसी ने कहा कार्य हुआ है तो किसी ने कहा कार्य नहीं हुआ है. अभी और जांच बाकी है यदि ग्राम प्रधान के कार्यों में आगे की जांच में अनियमिता मिलती है तो प्रधान के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

वहीं जिस प्रधान पर घोटाले के आरोप लगे है उन्होंने बताया कि जिसने हमारे खिलाफ शिकायत की है वो दो साल पहले भी जांच करा चुके है जिसमें हमको क्लीन चिट मिल चुका है लेकिन शिकायतकर्ता को अभी तक संतुष्टि नहीं मिली है हाई कोर्ट के माध्यम से अधिकारियों पर दबाव बनाकर फिर से जांच कर वा रहे है जिसमें रास्ता, नाली,मनरेगा आवाश, शौचालय इन सभी चीजों का जांच हुआ जिसमें आधिकारियों को लगभग सभी कामों को सत्य पाया गया।

शिकायतकर्ता का कहना है कि प्रधान से मिली भगत कर जांच आधिकारी सही से जांच नहीं कर रहे है. प्रधान ने पहले से ही हुए काम पर फिर से पैसा उठा लिया है. यही नहीं प्रधान ने प्रधान मंत्री आवास पात्रों को न देकर दूसरे को दे दिए है. अधिकारी द्वारा कोई सही जांच नहीं हुई. अगर अधिकारियों द्वारा प्रधान के कार्य की सही से जांच नहीं हुई तो इस मामले को लेकर हम फिर से हाईकोर्ट जाएंगे.

 

Related Articles