ई रिक्शा पर लगे प्रतिबंध का रिक्शा चालकों ने किया विरोध

0

कानपुर। कानपुर के नरोना से गोल चौराहे तक ई रिक्शा पर लगाये गए प्रतिबंध का अभी तक पालन नहीं हो रहा है। इसके साथ ही लोग एसपी ट्रैफिक के दिए आदेशों को भी अनसुना कर रहे हैं। बीते दिन भी फूलबाग और बड़े चौराहे पर जब सख्ती दिखाई दी तो परेड और चुन्नीगंज के पास अराजकता सवार रही।

ई रिक्शा

ई रिक्शा मुक्त करने के आदेश अफसरों ने दिए थे

दरअसल, नरोना चौराहे से लेकर गोल चौराहे तक की सड़कों पर नो टेंपो जोन की तर्ज पर नो ई रिक्शा जोन बनाने की पहल शुरू हुई थी। अफसरों ने तीन दिन पहले बैठक करके 12 किमी की इस रोड को ई रिक्शा मुक्त करने के आदेश दिए थे, लेकिन अभी तक इन आदेशों का सही तरह से पालन नहीं किया जा रहा है।

बीते दिन भी लाल इमली चौराहा, फूलबाग, बड़ा चौराहा और नरोना चौराहे के पास ट्रैफिक पुलिस ने कई ई रिक्शा को रोका, लेकिन बाकी चौराहों व तिराहों पर ई रिक्शा की मनमानी रही। सीओ ट्रैफिक रणविजय सिंह ने बताया कि कई ई रिक्शा पर कार्रवाई की गई है। बाकी स्थानों पर भी कार्रवाई कराई जा रही है। गलियों से निकलकर कई ई रिक्शा इस रोड पर चले आते हैं। उन्हें समझाया जा रहा है।

इधर पुलिस के सख्त रवैया को देखते हुए ई रिक्शा चालकों ने भी विरोध करना शुरू कर दिया है। इतना ही नहीं उन्होंने शुक्रवार की पूरी रात हंगामा करने के बाद शनिवार को नरोना चौराहे के पास प्रदर्शन किया। इस दौरान करीब दस रिक्शा चालाक कोई कागज़ नहीं दिखाया पाए जिसके कारण उन्हें सीज कर दिया गया। इसके बाद अब कोर्ट ही फैसला लेगा। इसके अलावा चालाक इस कार्रवाई का जमकर विरोध कर रहे थे।

loading...
शेयर करें