जनसमस्यायों का निराकरण जनता के बीच जाकर करें अफसर : योगी (Yogi)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सभी मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिये है कि वह फील्ड में जाकर लोगों से संवाद स्थापित करें।

लखनऊ : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सभी मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिये है कि वह फील्ड में जाकर लोगों से संवाद स्थापित करें और जनसमस्यायों का निस्तारण करें। जिसकी मॉनिटरिंग मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा की जायेगी।

योगी (Yogi) ने शनिवार को विभिन्न विभागों की समीक्षा करते हुये कहा कि मण्डलायुक्त, जिलाधिकारी,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और पुलिस अधीक्षक केवल कार्यालय से ही शासकीय कार्यों का संचालन करें तथा फील्ड में जाकर लोगों से संवाद स्थापित करते हुए जन समस्याओं के प्रभावी निस्तारण की व्यवस्था सुनिश्चित करें। निर्देशों के अनुपालन की पुष्टि मुख्य सचिव कार्यालय तथा मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा इन अधिकारियों के कार्यालय के लैण्डलाइन नम्बर पर फोन करके की जाएगी।

नोडल अधिकारियों ने सभी जिलों का किया भ्रमण

उन्होने कहा कि किसानों के प्रति पूरी तरह समर्पित होकर धान क्रय तथा गन्ना क्रय किया जाये। डिप्टी आरएमओ धान खरीद के कार्य तथा जिला गन्ना अधिकारी गन्ना क्रय की नियमित माॅनिटरिंग करें। नोडल अधिकारियों ने सभी जिलों का भ्रमण किया और संचालित विभिन्न विकास एवं जनकल्याणकारी कार्यों की समीक्षा की तथा अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंप दी है। नोडल अधिकारियों की रिपोर्ट का अध्ययन करते हुए जिलों की व्यवस्था को बेहतर करने के लिए फील्ड के अधिकारियों को आवश्यक मार्गदर्शन प्रदान किया जायेगा।

यह भी पढ़ें :

मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने में डेयरी की महत्वपूर्ण भूमिका है। डेयरी सेक्टर के विस्तार के लिए राजस्व ग्रामों में अधिक से अधिक दुग्ध समितियां गठित करते हुए पशुपालकों को लाभान्वित किया जाए। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारियों को अपने-अपने जिले के गो-आश्रय स्थलों की व्यवस्थाओं को बेहतर बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।

उन्होने कहा कि कृषि तथा किसान कल्याण के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा किसान कल्याण मिशन प्रारम्भ किया जा रहा है। किसान कल्याण मिशन का आयोजन आगामी छह जनवरी से शुरू होगा। इसके अन्तर्गत प्रत्येक विकास खण्ड पर किसानों के हित में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि 06 जनवरी को वे स्वयं किसान कल्याण मिशन के अन्तर्गत आयोजित होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे।

Related Articles

Back to top button