OFT ने रक्षा बलों को सौंपी 12.7 मिमी की भारी मशीनगन, जानें इस बंदूक की खूबियां

तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली ऑर्डिनेंस फैक्टरी ने रक्षा बलों को 12.7 मिमी की 25 भारी मशीनगन सौंपी है

चेन्नई: तमिलनाडु (Tamil Nadu) के तिरुचिरापल्ली ऑर्डिनेंस फैक्टरी (Tiruchirappalli Ordnance Factory) ने रक्षा बलों को 12.7 मिमी की 25 भारी मशीनगन सौंपी है। इनमें से 15 भारतीय नौसेना और बाकी भारतीय तटरक्षक बल को सौंपे जाएंगे। तोपों का निर्माण इजरायल से प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के बाद किया गया है। इन बंदूकों के मिलने से नौसेना (Navy) और इंडियन कोस्ट गार्ड (Indian Coast Guard) की ताकत में इजाफा होगा। इन बंदूकों को दूर से संचालित एंव नियंत्रित किया जा सकता है।

हथियार निर्माण कंपनी

ऑर्डिनेंस फैक्टरी तिरुचिरापल्ली (OFT), जिसे आयुध निर्माणी त्रिची भी कहा जाता है, भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय के आयुध निर्माणी बोर्ड के अधीन कार्यरत तिरुचिरापल्ली, तमिलनाडु में स्थित एक रक्षा कंपनी है। इस कंपनी का नेतृत्व केवल एक IOFS अधिकारी द्वारा किया जाता है जिसे महाप्रबंधक कहा जाता है। OFT भारत की सबसे बड़ी छोटी हथियार निर्माण कंपनी है और इसकी सबसे विविध रेंज है।

OFT ने 9 मिमी कार्बाइन के साथ अपना उत्पादन शुरू किया और अब 5.56 मिमी राइफल से लेकर रॉकेट लॉन्चर, शेल लॉन्चर, ग्रेनेड लॉन्चर, विमानन आयुध, नौसेना आयुध, टैंक आयुध, विमान भेदी बंदूकें, ऑटोकैनन, स्वचालित राइफल, स्नाइपर राइफल तक के हथियार बनाती है।OFT वर्तमान में विदेशी कंपनियों से लाइसेंस के तहत कुछ उत्पाद बनाती है जो उनका उत्पादन करते हैं।

इंदिरा गांधी ने किया उद्घाटन

इसका उद्घाटन 3 जुलाई 1966 को भारत की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) द्वारा किया गया था और उत्पादन 1967 में शुरू हुआ। यह राइफल फैक्ट्री ईशापुर और स्मॉल आर्म्स फैक्ट्री, कानपुर की सहायता से देश में छोटे हथियारों का उत्पादन बढ़ाने के लिए स्थापित किया गया था। 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के बाद इसकी आवश्यकता महसूस की गई थी।

यह भी पढ़ेभारतीय क्रिकेटर Shivam Dube ने गर्लफ्रेंड Anjum Khan से रचाई शादी, लोगों ने दिखाया ऐतराजा

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles