J-K: मां की दवा लेने निकले जवान को अगवा कर आतंकियों ने मार डाला

श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर में एक बार फिर आतंकियों ने एक पुलिसकर्मी को अगवा कर हत्या कर दी है। शुक्रवार की सुबह उसका शव बरामद किया गया। पुलिसकर्मी जावेद अहमद डार को आतंकियों ने गुरुवार शाम को शोपियां जिले के वेहिल गांव में उनके घर से अपहरण कर लिया था। उनका शव कुलगाम से मिला। डार की हत्या की जिम्मेदारी हिज्बुल मुजाहिद्दीन ने ली है।  जावेद अहमद डार

मिली जानकारी के मुताबिक, जावेद अहमद डार को अगवा उस वक़्त किया गया जब वो हज पर जा रही अपनी मां के लिए दवा लेने मेडिकल शॉप जा रहे थे। जानकारी के मुताबिक जावेद पिछले पांच साल से एसएसपी शैलेंद्र कुमार के साथ ऑपरेटर के तौर पर तैनात थे। चश्मदीदों के मुताबिक तीन से चार हथियारबंद आतंकी कार में सवार होकर आये और आतंकवादियों ने हवा में फायरिंग की और बंदूक की नोंक पर जावेद को अपने साथ कार में बिठाकर ले गए।

एक महीने में यह दूसरा मामला है। आपको बता दें कि इससे पहले 14 जून को आतंकवादियों ने भारतीय सेना के जवान औरंगजेब को कलमपोरा से अगवा कर हत्या कर दी थी।  रंगजेब  ईद का त्यौहार मनाने के निजी वाहन से शोपियां जा रहे थे तभी आतंकवादियों ने उनका रास्ता रोक लिया था और उनका अपहरण करने के बाद हत्या कर दी थी। वे 44 राष्ट्रीय राइफल के साथ शोपियां के शादीमर्ग में तैनात थे। जबकि मई 2017 में सेना के लेफ्टिनेंट उमर फयाज की आतंकियों ने उस वक़्त अगवा कर लिया था जब वो एक शादी समारोह में भाग लेने अपने गहर गए थे बाद में उनकी हत्या कर दी थी।

Related Articles