रायबरेली में हुए फ़्रॉड में आया OLX का नाम, कीमत चुकाने के बाद भी नहीं मिली बाइक

लखनऊ : रायबरेली में आजकल ऑनलाइन फ्रॉड करना आम हो गया है। दूसरे शहरों से बड़ी बड़ी कंपनियां जनपद आती हैं और लोगों को झांसा देकर मेहनत से कमाए उनके रुपए लेकर फरार हो जाती हैं। इस कड़ी में जानकारों की माने तो जनपद में अबतक लाखों करोड़ों के फ्रॉड हो चुके हैं।

OLX पर लिस्टेड था सेलर का मोबाइल

अब तक छोटी-मोटी कंपनीओं के नाम ही फ्रॉड केसेस में आते थे, लेकिन हाल ही में इसमें OLX  का नाम सामने आया है। खबर है रायबरेली के आनंद कुमार यादव पुत्र श्याम लाल यादव निवासी ग्राम पुरे जौला मजरे डलमऊ पोस्ट मुराई बाग़ थाना डलमऊ जिला रायबरेली जो मौजूदा समय में रायबरेली के कृष्णा नगर में रहते हैं। पेशे से लैब टेक्नीशियन आनंद के मुताबिक उन्होंने हाल ही में ओएलएक्स पर 25 000 रुपए की एक स्प्लेंडर बाइक का ऑफर देखा था।

बाइक पसंद आने पर उन्होंने  ऐप पर पड़े मोबाइल नंबर से कांटेक्ट किया। कॉल पर आनंद को बताया गया की बाइक राजस्थान में है। कॉल पर यह भी बताया की गाड़ी की कीमत, गाड़ी मिलने पर देनी होगी।

यह भी पढ़ें : SIPRI : सांसों को तरसती दुनिया में हर साल बढ़ता जा रहा है मिलिट्री खर्च

इस के बाद उनको 26 अप्रैल को कॉल कर बताया गया की बाइक आर्मी पार्सल ट्रक से कानपुर आ गई है, और आठ बजे तक रायबरेली पहुंच जाएगी। इसके बाद कॉलर ने उनसे टैक्स और आरसी के नाम पर दो किश्त में दस हज़ार रूपए मांगे। रुपए चुकाने के बाद उनसे सर्विस टैक्स के नाम पर फिर रूपए की मांग की गई। सारा पेमेंट गूगल पे से करने के बाद फिर टेक्निकल वजह बताकर पैसे की मांग की गई। इस तरह कई किस्तों में 38996 रूपए अदा करने के बाद भी उन्हें बाइक नहीं मिली।

परेशान होकर जब उन्होंने परचेस कैंसिल कर सेलर से बाइक का रिफंड माँगा तो काफी टालमटोल के बाद उन्हें दो महीने में पैसा लौटने का आश्वासन दिया गया है।

यह भी पढ़ें : Britannia ने जारी किये Q4 के नतीजे, वॉल्यूम बढ़ा लेकिन लेकिन मुनाफे में आई गिरावट

Related Articles