18 अप्रेल को बन रहा है ये महासंयोग, इस उपाय से बरसेगी मां लक्ष्मी कृपा

अक्षय तृतीया या आखा तीज वैशाख मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को कहते हैं। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार इस दिन जो भी शुभ कार्य किये जाते हैं, उनका अक्षय फल मिलता है। इसी कारण इसे अक्षय तृतीया कहा जाता है। वैसे तो सभी बारह महीनों की शुक्ल पक्षीय तृतीया शुभ होती है, लेकिन वैशाख माह की तिथि स्वयंसिद्ध मुहूर्तो में मानी गई है। हिंदी वर्ष के दूसरे महीने बैशाख में दूसरा सबसे बड़ा पर्व होता है अक्षय तृतीया, 2018 में जाने इसकी तिथि और महातम्‍य के बारे में।

संबंधित इमेज

अक्षय तृतीया का महाशुभ योग-

बता दें कि अक्षय तृतीया का महाशुभ योग 18 अप्रैल को सुबह 4:47 मिनट से शुरू होगा और अगले दिन सुबह 3:03 बजे तक रहेगा। करीब 24 घंटे का ऐसा महाशुभ योग काफी सालों बाद बन रहा है। खबरों के अनुसार यह महा शुभ योग 11 साल बाद आया है। अक्षय तृतीया का सर्वसिद्ध मुहूर्त के रूप में भी विशेष महत्व है। मान्यता है कि इस दिन बिना कोई पंचांग देखे कोई भी शुभ वह मांगलिक कार्य जैसे विवाह, गृह-प्रवेश, वस्त्र-आभूषणों की खरीददारी या घर, भूखंड, वाहन आदि की खरीददारी से संबंधित कार्य किए जा सकते हैं। नवीन वस्त्र, आभूषण आदि धारण करने और नई संस्था, समाज आदि की स्थापना या उदघाटन का कार्य श्रेष्ठ माना जाता है। पुराणों में लिखा है कि इस दिन पितरों को किया गया तर्पण तथा पिन्डदान अथवा किसी और प्रकार का दान, अक्षय फल प्रदान करता है।

ज्योतिषियों ने बताया है कि अक्षय तृतीया के दिन 11 कौड़ियों को लाल कपड़े में बांधकर पूजा स्थल पर रखने से काफी लाभ मिलता है। इस दिन लक्ष्मी माता का केसर और चंदन से पूजन करें। इससे आपको आर्थिक बाधाओं से मुक्ति मिलेगी।

संबंधित इमेज

अक्षय तृतीया के मौके पर उत्तर प्रदेश समेत देश के कई इलाकों में नदी या तालाब में स्नान करके लोग नया घड़ा भरते हैं और फिर उसके जल से मंदिर के तेवताओं को स्नान कराते हैं। इस दिन सत्तू खाने को भी काफी शुभ माना जाता है। इसके साथ ही ब्राह्मणों को चने की दाल, ककड़ी, तरबूज और सत्तू-घी-शक्कर भी दान किया जाता है। माना जाता है कि इस दिन दान करने का विशेष लाभ प्राप्त होता है। अक्षय तृतीया के दिन तुलसी की सेवा करने से धन-धान्य की कोई कमी नहीं होती है। तुलसी के पौधे पर नियमित रूप से दीपक लगाने और पूजन से मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।

Related Articles