13 जुलाई को पीएम मोदी Tokyo Olympics में जाने वाले एथलीट से चर्चा करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 जुलाई को टोक्यो ओलंपिक में जाने वाले खिलाड़ियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत करेंगे

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) 13 जुलाई को टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में जाने वाले खिलाड़ियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत करेंगे। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर, केंद्रीय राज्य मंत्री निशीथ प्रमाणित और कानून मंत्री किरेन रिजिजू भी बैठक में मौजूद रहेंगे।

केंद्रीय खेल राज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक (Nisith Pramanik) ने एक बयान में कहा कि ओलंपिक के लिए भारतीय खिलाड़ियों को मेरी तरफ से शुभकामनाएं है। इस महामारी में भारत सरकार उन्हें सभी प्रकार की सुविधा देने की कोशिश कर रहे हैं। हम लोग को पूरा विश्वास है कि हमारे खिलाड़ी भारत के लिए खेलेंगे और भारत का नाम रोशन करेंगे।

उन्होंने कहा कि मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे मोदी जी की मंत्री सभा में काम करने का मौका मिला है और मेरा सौभाग्य है कि गृह मंत्री जी के साथ मुझे काम करने का मौका मिला है। इतनी बड़ी जिम्मेदारी निभाने की मैं पूरी कोशिश करूंगा और देश के लिए मैं जितना कर सकता हूं वो करूंगा।

खेलों में दमखम दिखाने का मौका

ओलंपिक खेल प्रतियोगिता में एथेलीट कई प्रकार के खेलों में भाग लेते हैं। Olympics की शीतकालीन एवं ग्रीष्मकालीन प्रतियोगिताओं में 200 से ज्यादा देश प्रतिभाग के रूप में शामिल होते हैं।

 

ओलंपिक खेलों का इतिहास बहुत ही पुराना है। प्राचीन ओलंपिक खेलों का आयोजन 1200 साल पहले योद्धा-खिलाड़ियों के बीच हुआ था।  पुराने समय में शांतिपूर्ण समय अंतराल के दौरान योद्धाओं के बीच प्रतिस्पर्धा के साथ खेलों का विकास हुआ। शुरुआती दौर में दौड़, मुक्केबाजी, कुश्ती और रथों की दौड़ सैनिक प्रशिक्षण का हिस्सा हुआ करते थे। इनमें से सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले योद्धा प्रतिस्पर्धी को खेलों में अपना दमखम दिखाने का मौका मिलता था।

यह भी पढ़ेहिमाचल प्रदेश में कुदरत का कहर, बादल फटने से भारी तबाही, देखें खौफनाक Video

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles