IPL
IPL

उद्घाटन के पहले ही दिन इलेक्ट्रिक बस हुई हादसे का शिकार, विधानसभा की टूटी दीवार

पटना: बिहार विधानसभा परिसर में मंगलवार को एक बड़ा हादसा टल गया है। बिहार में मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इलेक्ट्रिक बस (Electric bus) परिचालन सेवा का शुभारंभ किया है और पहले दिन ही बस हादसे का शिकार हो गई। सीएम नीतीश ने खुद 12 इलेक्ट्रिक बस (Electric bus) को हरी झंडी दिखाई और बस में बैठकर विधानसभा पहुंचे। वहां पहुंचने तक तो सब ठीक था लेकिन वहां से निकलते समय विधानसभा परिसर में ड्राइविंग के दौरान बस चालक ने नियंत्रण खो दिया, जिसके बाद बस का संतुलन बिगड़ गया और देखते ही देखते इलेक्ट्रिक बस विधानसभा कैंपस के दीवार से टकरा गई।

12 नए बस में एक बस हुई हादसे का शिकार

इस हादसे में विधानसभा के भीतर का गोलंबर वाला दीवार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया, यह हादसा गोलंबर से बस टर्न होते समय हुआ था। 12 नए बस में से एक बस हादसे का शिकार हो गई। हादसे के बाद विधानसभा परिसर में मौजूद लोग दौड़े पड़े और बस चालक को गाइड कर सही सलामत बस को वहां से रवाना किया। शुक्र है कि जब यह हादसा हुआ उस समय वहां पर कोई मौजूद नहीं था। बस चालक भी सुरक्षित है। नई बस में खरोंच जरूर आ गईं। गौरतलब है कि देश भर में बिहार ऐसा तीसरा राज्य है जहां इलेक्ट्रिक बस का परिचालन शुरू किया गया है।

ये भी पढ़ें : पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर पहली बार मोदी सरकार बैकफुट पर

82 अन्य बसों की परिचालन

सीएम नितीश ने मंगलवार को इलेक्ट्रिक समेत 82 अन्य बसों की परिचालन शुरू किया है। इन बसों में 70 डीलक्स व सेमी डीलक्स और 12 इलेक्ट्रिक बसें हैं। इस महीने कुल 25 इलेक्ट्रिक बसें सड़कों पर उतारी जाएंगी, जिनमें से 12 बसों का परिचालन शुरू हो गया है। इलेक्ट्रिक बसों का परिचालन पटना से राजगीर, पटना से मुजफ्फरपुर और पटना नगर सेवा के लिए किया जाएगा।

ये भी पढ़ें : चुनाव से पहले ममता बनर्जी को लगा झटका, टीएमसी के इस विधायक ने बदला पाला

Related Articles

Back to top button