देश की तिहाई जनता ने जताया jan dhan में यकीन, एक्टिव खाते चालीस करोड़ पार

नई  दिल्ली : फाइनेंस मिनिस्ट्री ने शनिवार को बताया कि प्रधान मंत्री jan dhan योजना के तहत बैंक खाते बढ़कर 43 करोड़ हो गए हैं। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता  दें की इस स्कीम का एलान प्रधान मंत्री मोदी ने 15 अगस्त 2014 को किया था।

jan dhan के तहत बैंकिंग हुई आसान

इस कड़ी में जानकारों के मुताबिक यह स्कीम यह सुनिश्चित करने के लिए शुरू की गई थी कि लोगों की फाइनेंशियल सर्विस, मतलब बैंकिंग, , लोन, इंश्योरेंस, पेंशन लोगों तक आसानी से पहुंच सकें। इस कड़ी में मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इसमें से 55.47 प्रतिशत जन-धन अकाउंट होल्डर महिलाएं हैं और 66.69 प्रतिशत अकाउंट होल्डर्स ग्रामीण और सेमि -अर्बन क्षेत्रों के लोग हैं। सरकार द्वारा जारी आकड़ों के मुताबिक कुल 43.04 करोड़ PMJDY अकाउंट में से 36.86 करोड़ या 85.6 प्रतिशत चालू हैं और प्रति खाता औसत जमा 3,398 रुपए है।

इस कड़ी में  प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, “आज हम इस स्कीम के सात साल पूरे कर रहे हैं, यह एक ऐसी पहल है, जिसने भारत के विकास पथ को हमेशा के लिए बदल दिया है। इसने अनगिनत भारतीयों के लिए वित्तीय समावेशन और गरिमापूर्ण जीवन के साथ-साथ सशक्तिकरण किया है। जन धन योजना ने और भी पारदर्शिता में मदद की है।”

यह भी पढ़ें : बिगबॉस फेम एक्टर अरमान कोहली के घर पर पड़ा NCB का छापा,

Related Articles