179 प्रवक्ता व 2667 अस्सिटेंट टीचर पद पर होगी ऑनलाइन नियुक्ति, NIC से बनाई वेबसाइट

लखनऊ: राजकीय माध्यमिक विद्यालयों के लिए प्रवक्ता पद हेतु लोक सेवा आयोग, प्रयागराज के माध्यम से चयनित अभ्यर्थियों का ऑनलाइन नियुक्ति/पदस्थापन आदेश आनलाइन निर्गत किये जाने के लिए विभाग द्वारा एन.आई.सी. के तकनीकी सहयोग से वेबसाइट https://seceduonlineposting.up.gov.in विकसित की गयी है।

निदेशक माध्यमिक शिक्षा श्री विनय कुमार पांडेय ने यह जानकारी देते हुए बताया कि उक्त वेबसाइट के माध्यम से अभ्यर्थियों द्वारा वरीयता क्रम में इच्छित विद्यालयों के विकल्प आवेदित किये जाएंगे। अभ्यर्थी द्वारा लोक सेवा आयोग का अनुक्रमांक/हाईस्कूल परीक्षा का अनुक्रमांक, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर तथा ई-मेल आई0डी0 का उपयोग आनलाइन नियुक्ति/पदस्थापना प्रक्रिया में किया जाएगा। उक्त आवेदन पत्र ऑनलाइन ही सबमिट होगा किसी अन्य माध्यम से आवेदन स्वीकार नहीं किया जायेगा। आवेदन एवं पदस्थापन कार्यवाही की सूचना प्रत्येक स्तर पर उनके ई-मेल तथा मोबाइल पर उपलब्ध कराई जायेगी। सहायक अध्यापक पद पर चयनित अभ्यर्थी अपने नियुक्ति/पदस्थापन हेतु 28-07-2021 तक इच्छानुसार वरीयता क्रम में विद्यालयों के विकल्प आवेदित कर सकेंगे। इसी प्रकार प्रवक्ता पद पर चयनित अभ्यर्थी अपने नियुक्ति/पदस्थापन हेतु दिनांक 29-07-2021 से 04-08-2021 तक इच्छानुसार वरीयता क्रम में विद्यालयों के विकल्प आवेदित कर सकेंगे।

निदेशक माध्यमिक शिक्षा ने बताया कि अंग्रेजी, अर्थशास्त्र, इतिहास, उर्दू, गृह विज्ञान, जीव विज्ञान, नागरिक शास्त्र, भौतिक विज्ञान, मनोविज्ञान, रसायन विज्ञान, संस्कृत, हिन्दी, गणित एवं भूगोल विषयों के प्रवक्ता पुरूष शाखा के 110 अभ्यर्थी तथा प्रवक्ता महिला शाखा में उक्त विषयों के 69 अभ्यर्थी कुल 179 अभ्यर्थियों द्वारा आनलाइन पदस्थापन हेतु आवेदन किया जाएगा। सहायक अध्यापक हिन्दी एवं सामाजिक विज्ञान तथा औपबन्धिक के पश्चात अन्तिम रूप से चयनित अन्य विषयों यथा कृषि, कला, जीव विज्ञान, वाणिज्य, अंग्रेजी, गणित, शारीरिक शिक्षा, संस्कृत, विज्ञान, उर्दू, गृह विज्ञान एवं संगीत विषय के 1261 पुरूष शाखा के अभ्यर्थी तथा महिला शाखा में उक्त विषयों के 1406 अभ्यर्थी कुल 2667 अभ्यर्थियों द्वारा आनलाइन पदस्थापन हेतु आवेदन किया जायेगा।

निदेशक माध्यमिक शिक्षा ने बताया कि आनलाइन नियुक्ति/पदस्थापन प्रक्रिया में प्रथम वरीयता उन अभ्यर्थियों को दी जायेगी जो लोक सेवा आयोग से चयनित सूची के अनुसार दिव्यांग की श्रेणी में चयनित हुये हैं। द्वितीय वरीयता उन विवाहित महिला अभ्यर्थियों को दी जायेगी जिनका बच्चा ऑटिस्टिक है अथवा 40 प्रतिशत दिव्यांगता है। तृृतीय वरीयता उन अभ्यर्थियों को दी जायेगी जिनके पति/पत्नी भारतीय सेना/वायु सेना/नौ सेना अथवा केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बलोंः- जैसे आईटीबीपी तथा बीएसएफ में कार्यरत हैं। चतुर्थ वरीयता उन विधवा महिला/विधुर पुरूष अभ्यर्थियों को दी जायेगी जिन्होने पुनर्विवाह नहीं किया है तथा एकल अभिभावक हैं, तथा जिनके उपर बच्चो की देखभाल की जिम्मेदारी है। पांचवी वरीयता उन अभ्यर्थियों को दी जायेगी जिनके पति/पत्नी बेसिक, माध्यमिक एवं उच्च शिक्षा के अन्तर्गत आने वाले राजकीय अथवा सहायता प्राप्त विद्यालयों, परिषदीय विद्यालयों, राज्य/केन्द्रीय विश्वविद्यालयों/महाविद्यालयों एवं राजकीय/ अर्द्धशासकीय सेवा में कार्यरत हैं। वरीयता कोटिक्रम के अनुसार पदस्थापन करने के उपरान्त शेष रिक्तियों पर अन्य बचे हुये अभ्यर्थियों का पदस्थापन लोक सेवा आयोग की मेरिट के अनुसार किया जायेगा।

विनय कुमार पांडेय ने बताया कि अभ्यर्थियों की सुविधा एवं उनकी समस्या के निराकरण हेतु कार्य दिवस में हेल्पलाइन नं0 6387219859 पर प्रातः 10.00 बजे से सांय 05.00 बजे तक कॉल कर या इसी नम्बर पर व्हाट्सएप किया जा सकता है। उक्त के अतिरिक्त ई-मेल: seceduonlinepo[email protected] पर भी अपनी समस्या के निराकरण हेतु सम्पर्क किया जा सकता है। किसी अभ्यर्थी द्वारा उक्त आनलाइन नियुक्ति प्रक्रिया में वरीयता क्रम में विकल्प न प्रस्तुत करने की दशा में विभाग द्वारा नियमानुसार पदस्थापन किया जाएगा। इसमें विभाग का निर्णय अन्तिम होगा।

ये भी पढ़ें : महिला सशक्तिकरण पर अनोखा TV Serial “रक्षाबंधन- रसाल अपने भाई की ढाल” 

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles